AIMIM के सभी विधायक मिले नीतीश से, सियासी हलकों में हलचल

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बिहार विस में एआइएमआइएम (AIMIM) के सभी 5 विधायक गुरुवार को बिहार के सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात की है. इस मुलाकात के सियासी हलकों में कई मतलब निकाले जा रहे हैं.

इसे भी पढ़ेंजियो ने एप्पल, एमेजॉन, अलीबाबा और पेप्सी को पीछे छोड़ा

बता दें कि बिहार में 2020 में सम्पन्न हुए विस चुनाव में सांसद असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) की पार्टी एआइएमआइएम (AIMIM) के 5 विधायक चुने गए हैं. इनके नाम हैं – बिहार AIMIM के अध्यक्ष व विधायक अख्तरुल इमान, अंजर नईमी, इजहार अशफी, रूकनुद्दीन हसीन और शाहनवाज़ आलम. राजनीतिक हलकों में इन सबकी नीतीश कुमार से आज की मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर अख्तरुल इमान ने कहा कि वे नीतीश कुमार से सीमांचल के विकास के बारे में मुलाकात करने गए थे. इसका कोई अलग अर्थ नहीं निकाला जाना चाहिए.

गौरतलब है कि 2020 के बिहार विस चुनाव के बाद से ही बिहार की राजनीति में दलों के बीच उठा पटक जारी है. कई नेताओं ने अपनी पार्टी छोड़ दिया है तो कइयों ने पार्टी ही बदल डाली है. पिछले कुछ दिनों में आरजेडी, काँग्रेस, बसपा, लोजपा और रालोसपा के कई नेता और विधायकों ने बीजेपी और जदयू जॉइन कर ली है. ऐसे में एआइएमआइएम के सभी 5 विधायकों का अचानक सीएम नीतीश से मिलना बिहार की राजनीति में कौतूहल का मामला बन गया है.

आप इसे भी पढ़ें1 से 28 फरवरी तक के लिए नई अनलॉक गाइडलाइंस

मुलाकात के बारे में पूछे जाने पर एआइएमएम के प्रदेश अध्‍यक्ष अख्‍तरूल इमान ने बताया कि वे सीएम से मिलकर सीमांचल के मुद्दों पर बात की है. सीमांचल क्षेत्र के विकास से जुड़े मसले पर हुए इस बातचीत का सियासी अर्थ निकलना गलत है. उन्होंने कहा कि सीएम नीतीश कुमार बीजेपी से बेहतर हैं और उन्हें एक अच्छा सीएम मानते हैं. नीतीश की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा कि विकास के कामों में हम नीतीश कुमार के साथ हमेशा खड़े रहेंगे.

बात भले सीएम से मिलकर सीमांचल क्षेत्र के विकास के बारे में हो लेकिन जिस तरह से पिछले दिनों विपक्षी पार्टियों के वरिष्ठ नेताओं और विधायकों ने अपनी पार्टी का दामन छोड़ बीजेपी और जदयू का दामन थामा है, उसको ध्यान में रखते हुए यह कयास लगाया जा सकता है कि आने वाले दिनों में ये सभी पाँच विधायक भी कहीं सत्ता पक्ष का दामन न थाम लें.