84 वर्षीय बुजुर्ग ने लिया कोरोना का 11 बार टीका, कहा इससे हुआ फायदा

मधेपुरा (TBN – The Bihar Now डेस्क)| क्या आपको विश्वास होगा कि एक 84 वर्ष के व्यक्ति ने कोरोना का टीका 11 बार लिया (elderly took corona vaccination 11 times) और अभी तक उस पर किसी तरह का साइड इफेक्ट नहीं हुआ है. जी हां, ऐसा ही वाकया मधेपुरा जिला (Madhepura District) में हुआ है जहां 84 वर्षीय एक बुजुर्ग ने एक, दो नहीं, बल्कि 11 बार कोरोना वैक्सीन लगवाने का दावा किया है. बुजुर्ग के अनुसार, इससे उन्हें काफी फायदा हुआ है और कई तरह के दर्द भी खत्म हो गए हैं.

मधेपुरा जिला के उदाकिशुनगंज अनुमंडल अंतर्गत पुरैनी थाना के ओराय गाँव निवासी ब्रह्मदेव मंडल नामक बुजुर्ग ने बताया कि वे अभी तक 11 बार कोरोना का टीका लगवा चुके हैं. उन्होंने कहा कि टीका लगवाकर खुद को कोरोना के संक्रमण से सुरक्षित कर लिया है. उन्होंने यह भी कहा कि इससे उनके कई तरह के दर्द भी खत्म हो गए हैं.

मंडल ने बताया कि मंगलवार 4 जनवरी को वे 12वीं बार टीका लगाने चौसा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गए थे. लेकिन वहां वैक्सीनेशन का काम बंद होने के कारण ऐसा नहीं हो सका. उन्होंने बताया कि चूंकि टीका लगाने से उन्हें काफी फायदा हुआ है, इसलिए वे 11 बार टीका ले चुके हैं और आगे भी लेने का इरादा है.

यह एक आश्चर्य की बात इसलिए है कि 11 बार वैक्सीन लगवाने के बाद भी उन पर कोई साइड इफेक्ट नहीं दिख रहा है. वहीं बुजुर्ग का कहना है कि वैक्सीन लेने से उन्हें काफी फायदा हुआ है. उनकी कमर दर्द में दर्द रहा करता था जिस कारण वे चलने फिरने में असमर्थ थे. उनके अनुसार उनका वह दर्द खत्म हो गया है. साथ ही उन्हें अब सर्दी खॉंसी भी नहीं होती है.

बुजुर्ग ने बताया कि वह मंगलवार (4 जनवरी 2021) को कोरोना की 12वीं वैक्सीन लगवाने के लिए चौसा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गया था, लेकिन वहाँ वैक्सीन उपलब्ध नहीं थी। वहीं, हर कोई इस बात से हैरान है कि 11 बार वैक्सीन लगवाने के बाद भी उन पर कोई साइड इफेक्ट नहीं दिख रहा है.

सेवानिवृत्त कर्मी हैं 84 वर्षीय बुजुर्ग

जानकारी के अनुसार, ब्रह्मदेव मंडल डाक विभाग के सेवानिवृत्त कर्मी हैं. उन्होंने पिछले 10 महीने में अलग-अलग जगहों पर 11 बार कोरोना का टीका लगवा लिया है. उनके अनुसार, पहली डोज उन्होंने पिछले साल 13 फरवरी को ली थी. इसके बाद 30 दिसंबर 2021 तक उन्होंने 11 डोज लगवाईं और सभी टीकाकरण की डेट टाइम दर्ज कर रखा है.

एक ही मोबाईल और आधार पर लिया टीका

इधर 4 जनवरी को भी वह 12वां डोज लेने चौसा केंद्र पर गए तो लोगों ने उन्हें पहचान लिया. इसके बाद यह मामला प्रकाश में आया. बता दें कि वह बुजुर्ग हर बार एक ही मोबाईल नंबर और अपने आधार पर टीका लगवाते थे.

होगी नियमतः कार्यवाई

मामले के बारे में पुरैनी के मेडिकल ऑफिसर डॉ. विनय कुमार ने बताया कि इस तरह का मामला उनके संज्ञान में आया है और इस मामले की जाँच की जा रही है. वहीं सिविल सर्जन डॉ. अमरेंद्र नारायण शाही ने बताया कि आईडी बदलकर बार-बार टीका लेना नियम के विरुद्ध है. इसलिए बुजुर्ग पर नियमतः मामला दर्ज कराया जाएगा.