पटना के 22 घाट खतरनाक, डीएम ने की सतर्क रहने की अपील

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार का महापर्व छठ पूजा की तैयारी को लेकर प्रशासन पूरी तरह से चौकस है. घाटों पर आने वाले श्रद्धालुओं के लिए सभी इंतजामों को बारीकी से देखा जा रहा है. इस बीच आज पटना के डीएम ने विभिन्न घाटों का जायजा लिया. इस दौरान प्रशासन के अन्य आला अधिकारी भी मौजूद रहे. डीएम कुमार रवि ने निरीक्षण के दौरान सभी अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए.

पटना जिलाधिकारी कुमार रवि ने बताया कि निरीक्षण में 22 ऐसे घाटों चिह्नित किया गया, जो खतरनाक हैं और उन जगहों पर बैरिकेट करके लाल कपड़े लगाने के साथ-साथ बैनर भी लगा दिया गया है. डीएम की ओर से ऐसे घाटों पर लोगों को आने के लिए मना भी किया गया है. डीएम ने कहा कि जहां बैरिकैटिंग कर दी गई है उस जगह पर आने वाले लोगों के पास अगर दूसरा विकल्प है तो वो घर पर ही छठ की पूजा करें. डीएम ने कहा कि जो 60 साल से ऊपर के लोग हैं और 10 साल से नीचे के बच्चे हैं उन्हें भी घाट पर आने की मनाही रहेगी.

डीएम कुमार रवि ने कहा कि अभी भी पटना में कोविड का संक्रमण अधिक है और छठ में बाहर से भी लोग आते हैं तो यह खतरा और भी बढ़ जाएगा. डीएम ने कहा कि पटाखों पर पूरी तरह से पाबंधी रहेगी. घाटों की सुरक्षा के लिए जगह-जगह नियंत्रण कक्ष भी बनाए गए हैं.