15 हजार मास्क, किट आएंगे आज, 5 लाख का था डिमांड

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) :- दुनियाभर में कोरोना के आंकड़े दुगनी तेज़ी से बढ़ रहे हैं. विश्व में अब कोरोना संक्रमितों की संख्या 12 लाख पार चुकी है और विश्वभर में कोरोना से मरने वालों की संख्या 64 हज़ार से ऊपर हो चुकी है. वहीँ भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3 हज़ार से ऊपर जा चुकी है और भारत में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 77  हो गया है. बिहार में भी कोरोना के मामले दुगनी तेज़ी से बढ़ने साथ ही अब तक ढाई दर्जन से ज्यादा कोरोना संक्रमित मरीज सामने आ चुके हैं. स्वास्थ्य सुविधा को और भी ज्यादा सुदृढ़ करने के लिए केंद्र सरकार से मदद मांगी जा रही है. 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इस बारे जानकारी देते हुआ कहा था कि “बिहार में 5 लाख PPE किट की मांग की थी. जिसमे से उनको अभी तक केवल 4000 ही मुहैया कराये गए हैं. इसके अलावा 10 लाख  N95 मास्क की मांग की गई थी. जिसमें से मात्र 50 हजार ही उपलब्ध कराये गए हैं. 10 लाख प्लाई मास्क की मांग की थी. जिसके एवज में केवल एक लाख ही प्लाई मास्क बिहार को मिला है. इसके अलावा 10 हजार आरएनए एक्सट्रैक्शन किट की भी मांग की गई थी. जिसमें से अभी तक मात्र ढाई सौ ही किट उपलब्ध कराये  गए हैं”.

इस बारे में जानकारी देते हुए बिहार के स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने कहा है कि “बिहार में आज 15 हजार मास्क और किट आएंगे. हालांकि केंद्र सरकार से 5 लाख की डिमांड की गई थी. जिसमें से अब तक मात्र 4 हजार ही मिले हैं. इसके साथ ही उन्होंने तबलीगी जमातियों के मामले पर बात करते हुए बताया कि “बिहार में अब तक तबलीगी जमातियों से जुड़े सारे रिपोर्ट निगेटिव पाए गए हैं. हालांकि दिल्ली मरकज से जुड़ा मामला काफी चुनौतीपूर्ण है. इसके साथ ही स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि “हमलोग लगातार तबलीगी जमातियों की सर्च कर रहें है. होम और डिजास्टर मैनेजमेंट इसे देख रहा है. उनके इनपुट पर हम लोग काम कर रहें है. वैसे अभी तक तबलीगी जमातियों की कोरोना रिपोर्ट नेगेटिव आने से राहत है लेकिन अभी बहुत से तबलीगी जमातियों की रिपोर्ट आना बाकी हैं. जिसका स्वास्थ्य विभाग और प्रशासन को इंतज़ार हैं”.