भारतीय सेना की बड़ी उपलब्धि साबित होगा “गनशॉट लोकेटर”

 

भारतीय सेना ने एक और कामयाबी हासिल की है। सेना के इंजीनियरिंग संस्थान इंडियन आर्मी कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग ने एक निजी संस्था के सहयोग से भारत का पहला “गनशॉट लोकेटर” बनाया है और सबसे बड़ी बात, ये दुनिया का सबसे सस्ता “गनशॉट लोकेटर” भी है। इस “गनशॉट लोकेटर” की सबसे बड़ी खासियत है कि ये 400 मीटर की दूरी से बुलेट के सटीक लोकेशन का पता लगाने में सक्षम है। इसके द्वारा भारतीय सेना अब आतंकवादियों की सही लोकेशन का पता लगा सकेगी इसके अतिरिक्त 1.4 किलोग्राम बजन का एक ऐसा हेलमेट भी बनाया है जो 10 मीटर की दूरी से AK- 47 की मार भी सह सकता है।

इंडियन आर्मी कॉलेज ऑफ मिलिट्री इंजीनियरिंग, पुणे में तैनात भारतीय सेना के मेजर अनूप मिश्रा के कड़े परिश्रम का ही नतीजा है ये अद्भुत क्षमता वाला “हेलमेट” और “गनशॉट लोकेटर” जिसको उन्होंने एक निजी संस्था के साथ मिलकर बनाया है।

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में आयोजित होने वाले डिफेंस एक्सपो -2020 में भारतीय सेना की नई हथियार प्रणालियों की प्रदर्शनी के साथ “गनशॉट लोकेटर” और हेलमेट का भी प्रदर्शन किया गया।