देश का बजट आज होगा पेश

 

 

नई दिल्ली: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज बजट पेश करेंगी। ये बजट मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा बजट है। देश के आर्थिक हालात और धीमी गति से दौड़ती हुई अर्थव्यवस्था में आज पेश होने वाला बजट क्या बदलाव लाएगा पूरे देश की आज इस पर नज़र है। व्यापारी, किसान, कारपोरेट जगत, और देश की आम जनता सभी इस बजट से उम्मीद लगाए बैठे हैं कि ये बजट सबको लुभाने वाला बजट साबित हो। पेश होने वाले बजट में आयकर में कटौती की सम्भावना है इसमें छूट की न्यूनतम सीमा को ढाई लाख रुपये से बढ़ाकर पांच लाख रुपये किया जा सकता है। जिससे आम जनता को राहत मिलने के आसार हैं । मोदी सरकार से भारत देश के किसानों ने भी उम्मीदें लगा रखी हैं। हमारे देश का किसान आज भी बहुत सारी समस्याओं से जूझ रहा है। किसानों की आर्थिक हालत में सुधार के लिए किसानों को उनकी फसल का उचित मूल्य दिया जाये जो कभी कभी किसानों को नहीं मिल पता इसके लिए सुगम नीति और दिशा निर्देश बनाये जायें। फसल की बर्बादी से होने वाले आर्थिक नुकसान की हालात में किसानों का कर्ज माफ़ होना चाहिए और सरकार ने इसके लिए सफल प्रयास भी किये हैं लेकिन आज भी बहुत से किसान सरकार से मिलने वाली बहुत सी योजनाओं के फायदे से वंचित रह जाते हैं आने वाले बजट से किसान वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण से आस लगाए बैठे हैं ये बजट उनके चेहरे पर ख़ुशी की लहर लेके आये।

मोदी सरकार के द्वारा उपभोक्ता विश्वास को बढ़ाने के लिये सरकार ने बहुत सारे प्रोत्साहन उपायों की घोषणा की। लेकिन इसके बावजूद उपभोक्ता विश्वास नहीं बढ़ पाया है। बैंकों से कर्ज लेने वालों की तादात में लगातार कमी आ रही है। घर,प्रॉपर्टी, और नए वाहन खरीदने वाले भी बैंकों से दूर ही नज़र आये जिससे प्रॉपर्टी और कार की बिक्री में भारी कमी आयी है जिसका असर पिछले साल में हमको देखने को मिला था

आज पेश होने वाले बजट में देश की अर्थव्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए निवेश और खर्च को बढ़ाने के लिए विभिन्न योजनाओं का ऐलान किया जा सकता है। किसानों और आम जनता के साथ साथ इलेक्ट्रिक वाहन, नवीकरणीय ऊर्जा, बिजली, रीयल एस्टेट,सस्ते आवास, और निर्यात प्रोत्साहन के क्षेत्र में नये प्रोत्साहनों की घोषणा की जा सकती है।