COVID-19 के खिलाफ रिलायंस इंडस्ट्रीज ने PM Cares Fund में दिए 500 करोड़ रुपए

मुंबई (TBN रिपोर्ट) |  622,809 करोड़ रुपए ($90.1 बिलियन डॉलर) के कुल टर्नओवर के साथ भारत की सबसे बड़ी निजी क्षेत्र की कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने पीएम केयर्स फंड में 500 करोड़ रुपए के दान की घोषणा की है. जैसा की विदित है कोरोनेवायरस महामारी के खिलार्फ देश के संघर्ष के लिए प्रधानमंत्री ने लोगों से पीएम केयर्स फंड में दान देने का आहवान कर रखा है.

कंपनी द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया गया है कि आरआईएल ने पीएम के फंड में वित्तीय योगदान के अलावा, कंपनी ने महाराष्ट्र और गुजरात सरकारों को भी कोविड-19 के खिलाफ अपने संघर्ष का समर्थन करने के लिए 5-5 करोड़ रुपए का योगदान किया है.

विज्ञप्ति के अनुसार आरआईएल ने पहले ही कोविड-19 के खिलाफ इस कार्य योजना के खिलाफ रिलायंस परिवार की सक्षमता और सुविधाओं को तैनात कर दिया है. आरआईएल और इसकी प्रेरित टीम ने शहरों और गांवों में, सड़कों और गलियों, क्लीनिकों और अस्पतालों, किराने और खुदरा दुकानों पर मौजूद है, और राष्ट्र की सेवा में अतिरिक्त क्षमताओं का उपयोग किया जा रहा है.

विज्ञप्ति में आगे कहा गया है कि आरआईएल और रिलायंस फाउंडेशन एक महत्वपूर्ण प्रयास का नेतृत्व कर रहे हैं जिसमें निम्न तरह के पहल शामिल हैं –

  • पीएम-केयर्स फंड में 500 करोड़ रुपए का योगदान
  • महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपए का योगदान
  • गुजरात के मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपए का योगदान
  • भारत का पहला 100 बिस्तर वाला विशेष कोविड-19 अस्पताल सिर्फ दो सप्ताह में कोविड -19 रोगियों को संभालने के लिए तैयार
  • अगले दस दिनों में पचास लाख मुफ्त भोजन और अधिक भोजन और नए क्षेत्रों में तेजी से राहत सुविधाओं को बढ़ा रहा है
  • स्वास्थ्य कर्मियों और देखभाल प्रदान करने वालों के लिए रोजाना एक लाख मास्क
  • स्वास्थ्य कर्मियों और देखभाल प्रदान करने वालों के लिए रोजाना हजारों पीपीई
  • देश भर में इमरजेंसी सर्विसेज में सेवाएं प्रदान कर रहे वाहनों को फ्री तेल
  • जियो मूल रूप से 40 मिलियन से अधिक लोगों और हजारों और हजारों संगठनों को रोजाना ‘घर से काम’, ‘घर से अध्ययन’ और ‘घर से स्वास्थ्य’ के माध्यम से अपने देश को आगे बढ़ाने में मदद करता है.
  • रिलायंस रिटेल स्टोर और होम डिलीवरी के माध्यम से लाखों भारतीयों के लिए रोजाना आवश्यक आपूर्ति प्रदान करता है.

विज्ञप्ति में कहा गया है कि आरआईएल कोविड-19 चुनौती के प्रति भारत की प्रतिक्रिया का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध है और जब तक यह चुनौती दूर नहीं हो जाती तब तक वह अपने समर्थन को बढ़ाता रहेगा.

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने कहा है कि “हमें विश्वास है कि भारत जल्द से जल्द कोरोनोवायरस संकट पर विजय प्राप्त करेगा. रिलायंस इंडस्ट्रीज की पूरी टीम संकट की इस घड़ी में देश के साथ है और कोविड-19 के खिलाफ इस लड़ाई को जीतने के लिए सब कुछ करेगी.” वही, रिलायंस फाउंडेशन की संस्थापक चेयरपर्सन, नीता अंबानी ने कहा है कि ” राष्ट्र कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए एक साथ आ रहा है और हम सभी रिलायंस फाउंडेशन में अपने देशवासियों और महिलाओं के साथ एकजुटता के साथ खड़े होते हैं, खासकर उन लोगों के लिए, जिनका पूरा समर्थन करने के लिए हम प्रतिज्ञा करते हैं. हमारे डॉक्टरों और कर्मचारियों ने भारत के पहले कोविड-19 अस्पताल को स्थापित करने में मदद की है और कोविड-19 की संपूर्ण जांच, परीक्षण, रोकथाम और उपचार में सरकार का समर्थन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं.” नीता अंबानी ने कहा कि “हमारे हाशिए पर रहने वाले और दैनिक मजदूरी समुदायों का समर्थन करने के लिए प्रयास करना समय की मांग है. हमारे भोजन वितरण कार्यक्रम के माध्यम से, हम देश भर के लाखों लोगों को प्रतिदिन खाना खिलाने का लक्ष्य रखते हैं.”