भारत में अब मोबाइल गेमिंग ऐप पबजी भी बैन

नई दिल्ली / पटना (TBN – the bihar now डेस्क) | केंद्र सरकार ने बुधवार को बड़ा फैसला लिया है. देशभर में पॉपुलर मोबाइल गेमिंग ऐप पबजी पर सरकार ने बैन लगा दिया है. बुधवार को सरकार ने पबजी सहित 118 मोबाइल ऐप पर भी बैन लगाया है. सरकार ने कहा है कि इन मोबाइल ऐप से देश की सुरक्षा और संप्रभुता को खतरा है.

सूत्रों के मुताबिक, भारत में पबजी के एक्टिव यूजर्स की संख्या करीब 3.3 करोड़ है. इस गेम को 5 करोड़ लोगों ने डाउनलोड किया है.

क्या है पबजी और अब इस पर बैन क्यों?

पबजी भारत समेत कई देशों में सबसे लोकप्रिय मोबाइल गेम्स में से एक है. सिर्फ भारत में इस ऐप के 175 मिलियन डाउनलोड हो चुके हैं.
पबजी को दक्षिण कोरियाई वीडियो गेम कंपनी ब्लूहोल ने डेवलप किया है. हालांकि, चीनी मल्टीनेशनल कंपनी टेन्सेंट की इसमें िहस्सेदारी है.
पबजी इससे पहले भी निशाने पर रहा है. कई बच्चों में इसकी लत से उनके माता-पिता परेशान हैं. कुछ राज्यों ने तो इसे अस्थायी तौर पर बैन भी किया था.
पबजी ने इसके बाद आश्वस्त किया था कि पैरेंट्स, एजुकेटर्स और सरकारी संगठनों से राय लेकर सुरक्षित इकोसिस्टम बनाएगा.

भारत में पहले बैन किए जा चुके हैं 106 ऐप्स

इससे पहले केंद्र अब तक 106 चीनी ऐप्स पर बैन लग चुका है. एक महीना पहले 47 ऐप्स पर बैन लगाया गया था. इससे पहले सरकार ने टिक टॉक, यूसी ब्राउजर, हेलो और शेयर इट जैसे 59 ऐप्स को बैन किया था. सरकार ने कहा है कि इन चाइनीज ऐप्स के सर्वर भारत से बाहर मौजूद हैं. इनके जरिए यूजर्स का डेटा चुराया जा रहा था तथा इनसे देश की सुरक्षा और एकता को भी खतरा था. इसी कारण सरकार द्वारा इन्हें बैन करने का फैसला लिया गया.

पबजी के अलावा इनको भी बैन कर दिया गया है –

Advertisements