सरकार बताएं आखिर गिरफ्तार भ्रष्ट इंजीनियर का गॉड फादर कौन : आम आदमी पार्टी

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| आम आदमी पार्टी ने बिहार सरकार से पूछा है कि दो अलग-अलग विभागो में कार्यरत गिरफ्तार भ्रष्ट इंजीनियरों का गॉड फादर आखिर कौन है. यह सवाल रविवार को आम आदमी पार्टी के बिहार प्रदेश प्रवक्ता बबलू कुमार प्रकाश ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर सरकार से पूछा.

बबलू कुमार प्रकाश के अनुसार राज्य में भ्रष्टाचार का आलम यह है कि 15 दिनों के अंदर बिहार सरकार के दो अलग-अलग विभागो में कार्यरत इंजीनियरों के पास से दो करोड़ रुपये से ज्यादा नगद बरामद होती है. ऐसा लगता है कि बिहार में सिर्फ घूसखोरी और भ्रष्टाचार है. सरकार का सारा खजाना भ्रष्ट अधिकारियों की तिजोरियों में बंद हो रहा है.

बबलू ने कहा कि पंद्रह दिन पहले 13 अगस्त को निगरानी विभाग ने राज्य पुल निर्माण निगम में कार्यरत एक्जीक्यूटिव इंजीनियर रविन्द्र कुमार के पटना स्थित आवास पर छापेमारी कर 1 करोड़ 43 लाख रुपया बरामद किया था. फिर रविवार को मुजफ्फरपुर में वाहन चेकिंग के दौरान पकड़े गए ग्रामीण विकास विभाग में कार्यरत धनकुबेर इंजीनियर अनिल कुमार सिंह के पास से 70 लाख रुपये नगद, जमीन और फ्लैट के कागजात बरामद हुए हैं.

उन्होंने पूछा कि सरकार बताए कि गिरफ्तार भ्रष्ट इंजीनियर का गॉड फादर कौन है ? कहीं सरकार में बैठा कोई मंत्री या विधायक तो इनकी मदद नहीं कर रहा है ? क्योंकि ये बात भी सामने आ रही है कि आरोपी इंजीनियर पटना में किसी को रुपयों से भरा बैग पहुंचाने आ रहा था. लेकिन मुजफ्फरपुर पुलिस ने इंजीनियर को रास्ते में दबोच लिया.

Also Read | पंडारक पुण्‍यार्क सूर्य मंदिर दर्शन के बाद नीतीश मिले अपने पुराने साथियों से

बबलू ने मुख्यमंत्री को ट्वीट कर कहा है कि ‘आपकी महत्वकांक्षी सात निश्चय योजना पूरी तरह से बिहार लूट की योजना बन चुकी है. यहां पुल- पुलिया निर्माण और सड़क पक्कीकरण के नाम पर भ्रष्ट अधिकारी अपनी तिजोरी भर रहे हैं.

उन्होंने मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि इसका पता लगाया जाए कि बिहार सरकार के दो अलग-अलग विभाग में कार्यरत इंजीनियरों के पास से दो करोड़ से ज्यादा नगद और चल-अंचल संपत्ति मिलती है, तो बाकियों के पास कितना होगा.