Big NewsPoliticsफीचर

“हम जिंदाबाद थे… जिंदाबाद हैं… जिंदाबाद रहेंगे..” – RJD MP मनोज झा

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनोज झा ((National spokesman Manoj Jha) ने शनिवार को कहा कि आरजेडी के सभी विधायक सोमवार तक तेजस्वी यादव के आवास पर रहेंगे. उन्होंने कहा कि सोमवार 12 फरवरी को विश्वास मत के दौरान सत्तारूढ़ राजग के खिलाफ सभी विधायक मतदान करेंगे. उसके बाद वे अपने अपने घर चले जाएंगे. मनोज झा ने देर शाम पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के सरकारी आवास 5, देशरत्न मार्ग पर विधायकों की बैठक के बाद मीडिया से बात कर रहे थे.

राज्यसभा सांसद मनोज झा ने कहा, “न केवल हमारी पार्टी के विधायक, बल्कि हमारे गठबंधन सहयोगियों ने भी 12 फरवरी तक तेजस्वी यादव के साथ रहने की इच्छा व्यक्त की है. हमारे लिए यह कैलेंडर में सिर्फ एक और तारीख है, लेकिन यह निश्चित रूप से उन लोगों के लिए बहुत चिंता का कारण बन रहा है जिन्होंने चुपके से सत्ता हासिल की है.”

इससे पहले शनिवार दोपहर में विधायक तेजस्वी यादव के आवास पर पहुंचना शुरू हो गए थे, जहां बजट सत्र से पहले छोटे बेटे और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के उत्तराधिकारी ने दोपहर के भोजन का आयोजन किया था.

पत्रकारों की भीड़ नाराज

देर शाम तक सभी विधायक बंगले के अंदर थे. इसी बीच तेजस्वी के विशाल बंगले के चारों ओर अतिरिक्त बैरिकेड्स लगाए जाने लगे. मीडिया की एंट्री पर रोक लगा दी गई. इसे देखकर वहां उपस्थित पत्रकारों की भीड़ नाराज हो गई. बाद में उन्हें यह बताया गया कि बैठक काफी देर तक चलेगी. साथ ही कई विधायकों के निजी कर्मचारियों को दवाएँ और अन्य सामान ले जाते हुए देखा गया.

एनडीए की बढ़ गई चिंता

इधर, जैसे ही यह खबर फैली कि आरजेडी के सभी विधायक सोमवार तक तेजस्वी यादव के आवास पर रहेंगे, सत्तारूढ़ एनडीए की चिंता बढ़ गई. इसके बाद भाजपा और जद (यू) के नेताओं ने बयान जारी कर आरोप लगाया कि राजद, जिसके पास 243 सदस्यीय सदन में सबसे अधिक 79 विधायक हैं, अपने विधायकों को ठिकाने लगा रहा है तथा विश्वास मत से पहले विभाजन के डर से सभी को घर में नजरबंद कर दिया गया है.

हालांकि, मनोज झा ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा, “ऐसा लगता है कि उन्हें दोपहर के भोजन से कोई दिक्कत नहीं है, जहां कई लोग नहीं आए और विधायकों को दूर बोधगया ले जा रहे हैं. उनके लिए केवल हमारे विधायकों का स्वेच्छा से पटना में रहना एक समस्या है.”

मनोज कुमार झा 5 देशरत्न मार्ग से निकले और पत्रकारों से बात करते हुए कहा, “एक-एक विधायक हमारा अंदर आराम से बैठा हुआ है. बातचीत कर रहा है. बिहार और देश की राजनीति में 12 फरवरी का दिन तो एक छोटा सा एपिसोड है. तेजस्वी यादव ने जो कहा कि खेल शुरू है खत्म हम करेंगे.”

आरजेडी सांसद ने कहा, “शुरुआत हमने तो नहीं की न? इस गठबंधन का सृजन नीतीश कुमार को जाता है. वह चलकर आए थे. तेजस्वी यादव नहीं गए थे. चलकर आए और किस दबाव में उन्होंने अब निर्णय लिया या यह करवाया गया वो इतिहास तय करेगा.”

अंत में मनोज झा ने बीजेपी पर हमला करते हुए पत्रकारों से कहा कि आप उन लोगों तक खबर पहुंचा दीजिए कि अपनी चिंता करें. हम जिंदाबाद थे, जिंदाबाद हैं और जिंदाबाद रहेंगे.

यह इशारा जदयू के मुख्य सचेतक श्रवण कुमार द्वारा आयोजित दोपहर के भोजन और बोधगया में दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यशाला की ओर था जिसमें भाजपा के सभी विधायक और विधान पार्षद भाग ले रहे हैं.

वैसे, आरजेडी की ओर से यह दावा किया जा रहा है कि एनडीए में टूट होगी और सरकार बहुमत साबित नहीं कर पाएगी. तेजस्वी यादव के आवास की सुरक्षा बढ़ा दी गई है.