रामविलास पासवान के निधन को साजिश बताते हुए हम पार्टी ने मोदी को लिखा पत्र

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | लोजपा के NDA से अलग होने के बाद लोजपा पर सभी तरफ से आरोप लगाने के सिलसिला जारी है. इन आरोपों के खेल में जो सबसे आगे है वो खुद एनडीए है. NDA के विधायक रोज़ाना चिराग पासवान पर बड़े बड़े बयान दे रहे है. वही चिराग पासवान भी पलटवार करने में पीछे नहीं हट रहे है.

इसी बीच हम पार्टी ने रामविलास पासवान के निधन के बाद जांच की मांग की है. उन्होंने इस मामले को लेकर पीएम नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा है और कहा कि रामविलास पासवान के निधन की जांच हो. उन्होंने पत्र में लोजपा प्रमुख और रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान पर बड़ा आरोप लगाते हुए उनकी संलप्तिता पर जांच की मांग की है.

हम प्रवक्ता डॉ दानिश रिजवान ने पत्र में लिखा है कि देश के बड़े दलित नेता एवं आपके मंत्रिमंडल के सदस्य रहे रामविलास पासवान का कुछ दिन पूर्व निधन हो गया था. पत्र में आरोप लगाया कि लोजपा के प्रमुख चिराग पासवान उनके अंतिम संस्कार के दूसरे दिन ही एक शूटिंग के दौरान न केवल हंसते-मुस्कुराते दिखाई दिए, बल्कि कट-टू-कट शूटिंग की भी बात करते रहे. उन्होंने कहा कि रामविलास से जुड़े कई ऐसे सवाल हैं जो अपने आप में चिराग पासवान को कटघरे में खड़ा करता है.

हम प्रवक्ता ने पत्र में यहां तक लिखा कि केंद्रीय मंत्री के अस्पताल में भर्ती रहने के दौरान आखिर किसके कहने पर अस्पताल प्रशासन द्वारा स्व. रामविलास पासवान जी का मेडिकल बुलेटिन जारी नहीं किया गया. अस्पताल प्रशासन सिर्फ 3 ही लोगों को रामविलास पासवान से मिलने की इजाजत क्यों थी. इससे जुड़े कई ऐसे सवाल हैं जो लोग जानना चाहते हैं. इसलिए हम पार्टी ने पत्र लिखकर पीएम मोदी से रामविलास पासवान के निधन की न्यायिक जांच कराने की मांग की है.