जनता के शवों के ऊपर सरकार बनना दुर्भाग्यपूर्ण – RJD

पटना (TBN रिपोर्ट) | राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रदेश महासचिव भाई अरुण कुमार ने कहा है कि बिहार विधानसभा के चुनाव पर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव के द्वारा उठाए गए मुद्दों पर चुनाव आयोग को गंभीरता से विचार करना चाहिए. उन्होंने आगे कहा है कि चुनाव तो आते और जाते रहेंगे, सरकार बनती और बिगड़ती भी है, लेकिन अगर राज्य की जनता के शवों के ऊपर सरकार बनती है तो यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण बात होगी.

भाई अरुण कुमार ने कहा है कि बिहार में जिस प्रकार तेजी से कोरोना के आंकड़े बढ़ रहे हैं. उनको देखकर अब पटना में घर से निकलने में भी डर लग रहा है. अब ऐसी स्थिति में चुनाव आयोग किस प्रकार चुनाव करवाएगी.

आगे उन्होंने कहा कि यह सोचने की बात है जदयू एवं भाजपा के लोग गरीबों की लाशों के ऊपर राजनीति करना चाह रही है. अभी राज्य में कोरोना दूसरे दौर में पहुंच चुका है, लेकिन इसके बावजूद भी बिहार सरकार कोरोना जांच में तेजी नहीं ला रही है. अगर ऐसे हालातों में राज्य में चुनाव होते हैं तो कोरोना को तीसरे चरण में जाने से कोई भी नहीं रोक सकता और तीसरे चरण में जाने का मतलब है कि बिहार में स्थिति मुंबई से भी ज्यादा भयानक हो जाएगी.

कोरोना वायरस संक्रमण को कम्युनिटी ट्रांसफर से रोकना ही होगा. जिसे सोचकर ही आत्मा कांप जाती है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी चाह रहे हैं कि उनके मुख्यमंत्री रहते हुए विधानसभा चुनाव हो जाए परंतु अभी राज्य की स्थिति ऐसी नहीं है कि अभी चुनाव कराया जा सके. अभी के कोरोना संक्रमण के हालात को देखते हुए चुनाव अयोग एक बार पुनः सर्वदलीय बैठक करा कर लोगों को इस पर राय ली जानी चाहिए तथा जनता के हितों को भी ध्यान में रखते हुए चुनाव आयोग को निर्णय लेने की जरूरत है.