हर स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए पूरी तरह कटिबद्ध

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) | बिहार में विपक्षी दल नीतीश सरकार पर कोरोना वायरस संक्रमण से निपटने में असफलता के आरोप लगा रहे हैं लेकिन राज्य सरकार का कोरोना को हराने के लिए लगातार प्रयास जारी है. वहीँ कोरोना को मात देने के लिए और कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए प्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को लेकर बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग कोरोना संक्रमित मरीजों को हर स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए पूरी तरह कटिबद्ध है. राज्य के तीन कोरोना (कोविड 19) डेडिकेटेड अस्पताल के साथ ही पीकू अस्पताल, मुजफ्फरपुर सहित पावापुरी मेडिकल काॅलेज के लिए भारत सरकार के द्वारा एक सौ वेंटिलेटर बिहार में पहुंच चुके  हैं.

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया कि राज्य सरकार के श्रोत से 30 और वेंटिलेटर आये हैं, जिसमें से 15 वेंटिलेटरों को कोरोना (कोविड 19) डेडिकेटेड नालन्दा मेडिकल कॉलेज और अस्पताल (NMCH) पटना में अधिष्ठापित किया जा चुका है. इसके अलावा भारत सरकार के द्वारा दिए गए 20 वेंटिलेटर एवं राज्य सरकार के द्वारा दिए 15 और वेंटिलेटर एनएमसीएच में अधिष्ठापित किया जाना है.

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने उपरोक्त के संबंध में जानकारी देते हुए ट्विटर के माध्यम से ट्वीट कर बताया है कि;