प्रधानमंत्री की बात उन्हीं के मंत्री नहीं मान रहे

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | पीएम मोदी की सलाह उनके मंत्रिमंडल के सहयोगी ही नहीं समझ रहे. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जी तो मास्क पहनने की सलाह देते हैं, लेकिन खुद और उनके सहयोगी ही मास्क का प्रयोग उचित नहीं समझते. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे आज अपने गृह जिले भागलपुर में है. मंत्री जी ने भागलपुर में ही प्रेस कांफ्रेंस किया. लेकिन जिन पर कोरोना रोकने की जिम्मेदारी है, वे ही कोरोना गाइडलाइन का खुलेआम उलंघन कर रहे थे.

मोदी मंत्रिमडल के मंत्री अश्विनी चौबे न तो वे मास्क लगाए दिखे, न ही उनके साथ वाले सहयोगी. मंत्री जी के अगल-बगल बैठे और पीछे खड़े लोग मास्क से पूरी तरह से दूरी बनाये हुए थे. लग रहा था कि अश्विनी चौबे और उनके सहयोगियों को कोरोना का कोई खतरा नहीं.

अपने पीसी के दौरान अश्विनी चौबे ने कहा कि पीएम हमेशा लोगों को मास्क पहनने की सलहा देते हैं और दूरी बनाए रखने की अपील करते हैं. लोगों को उनकी सलाह माननी चाहिए. लेकिन सलाह तो दूसरे के लिए ही बनी है. दूसरों को सलाह देने वाले केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे खुद पीएम मोदी की सलाह नहीं मान रहे थे.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में केंद्रीय मंत्री के साथ बगल में बैठे किसी भी व्यक्ति के चेहरे पर मास्क नहीं था. इस पर जब पत्रकारों ने मंत्री जी से सवाल पूछ दिया तो अश्विनी चौबे चौंक गए. पीएम मोदी की सलाह न मानने की गलती छुपाते हुए कहा कि हम अपने कार्यकर्ताओं से हमेशा यह कहते रहते हैं कि मास्क लगाइए, मास्क लगाने के बाद ही मेरे आसपास खड़े हुए. लेकिन लोग नहीं मानते हैं. इन लोगों को समझना चाहिए.

error: Content is protected !!