चार प्रमुख सड़कों को फोरलेन बनाने का टेंडर जारी

पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) | बिहार में नीतीश सरकार के द्वारा राज्य के विकास के लिए किये जा रहे कार्यों के बारे में बताते हुए जनता दल यूनाइटेड (जदयू ) के वरिष्ठ नेता व राज्य के भवन निर्माण मंत्री डॉ. अशोक चौधरी ने कहा है कि बिहार की उन्नति में सड़कों का महत्व बहुत ज्यादा है.

आगे उन्होंने कहा है कि इसी क्रम में राज्य सरकार ने चार प्रमुख सड़कों को फोरलेन बनाने का फैसला लेते हुए टेंडर जारी कर दिया है. बिहार में लगभग 7640.35 करोड़ की लागत वाली इन सड़कों के बनने के बाद यात्रा तीव्र और सुविधाजनक हो जाएगी.

लॉकडाउन के बाद बिहार में बापस लौटकर आये मजदूरों के रोजगार के मुद्दे को लेकर मंत्री डॉ. अशोक चौधरी ने कहा है कि बिहार सरकार वापस लौटे मजदूरों को रोजगार दिलाने के लिये सजग है. इसी के तरह स्किल मैपिंग के जरिये अब तक करीब डेढ़ लाख लोगों को रोजगार दिया जा चुका है. बिहार की श्रमशक्ति का प्रयोग हम बिहार को शीर्ष पर पहुंचाने में करेंगे.

भवन निर्माण मंत्री ने कर्मलीचक में 83.97 करोड़ रूपये की लगात से बने सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट के बारे में बताते हुए कहा है कि जल जीवन का आधार है और नदियों का जल शुद्ध रखना हम सबकी जिम्मेदारी है. इसी के तहत कर्मलीचक में बने इस सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट से नाले का पानी साफ होकर पुनपुन में जाएगा. आगे उन्होंने कहा है कि पर्यावरण की सुरक्षा की ओर यह एक बड़ा कदम है.

error: Content is protected !!