नीतीश सरकार देश की सबसे नकारा, विफ़ल और निकम्मी – तेजस्वी

पटना  (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) | देशभर के विभिन्न राज्यों में रहकर लाखों की संख्या में काम कर रहे बिहार के मजदूर लॉकडाउन के दौरान घर वापसी करते हुए अपने गृह राज्य लौटकर आ गए थे. लेकिन एक बार फिर से अब हालात सामान्य हो रहे हैं तो रोजगार की तलाश में मजदूरों का पलायन शुरू हो चुका है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रवासी मजदूरों से कहा था कि आप सभी अब बिहार में ही रह कर अपने श्रम व कौशल का उपयोग करें. बिहार के विकास में भागीदार बने. इसके साथ ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मजदूरों को भरोसा दिलाया कि अब उन्हें बाहर जाने की जरूरत नहीं है, यहीं काम मिलेगा. राज्य सरकार इस पर लगातार काम कर रही है. लेकिन इसके विपरीत मजदूरों के लिए ना तो कोई  रोजगार की व्यवस्था की गई और ना ही उनके परिवार के पालन पोषण के लिए आमदनी का कोई जरिया है. जिस कारण मजदूर फिर से पलायन के लिए मजबूर हो रहे हैं .

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार से मजदूरों के हो रहे लगातार पलायन को लेकर नीतीश सरकार पर नकारा, विफ़ल और निकम्मी सरकार का आरोप लगाते हुए कहा है कि नीतीश सरकार देश की सबसे नकारा, विफ़ल और निकम्मी सरकार है. इनके 15 वर्षों के कार्यकाल में बिहार के हर दूसरे घर से पलायन हुआ है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद श्रमिकों को बिहार में रोज़गार नहीं मिलने एवं भुखमरी के संकट के चलते मजबूरी में उन्हें वापस पलायन करना पड़ रहा है.