आपकी सुशासनी लीपापोती के खेल को करेंगे उजागर – तेजस्वी

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार प्रतिपक्ष के नेता व राजद विधायक तेजस्वी यादव ने बिहार सरकार पर जबरदस्त हमला बोला है. गोपालगंज हत्याकांड को लेकर तेजस्वी ने नीतीश सरकार को घेरते हुए कहा है कि बिहार में क़ानून व्यवस्था एकदम ध्वस्त हो चुकी है.

तेजस्वी के अनुसार कोविड-19 महामारी के कारण हुए लॉकडाउन में सत्ता संरक्षित अपराधों में जबरदस्त तेजी हुई है. उन्होंने के कहा कि एक तरफ जहां अवैध एके-47 रखने वाला शेख़पुरा का सत्ताधारी विधायक अप्रवासियों को गाली देता है तो गोपालगंज ज़िले का दुर्दांत सत्ताधारी विधायक अवैध हथियारों के दम पर गोलियों की बारिश कर आम नागरिकों के ख़ून की नदियाँ बहा रहा है.

तेजस्वी ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के अतिप्रिय आतंकी प्रवृति के विधायक अमरेन्द्र पांडे गोपालगंज हत्याकांड में नामज़द है. अमरेन्द्र पांडे की बर्बरता से एक ही परिवार की 3 अर्थियाँ एक साथ उठी है.

तेजस्वी ने विधायक अमरेन्द्र पांडे को नीतीश कुमार का मुकुट मणि बताया है. उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री के चहेते इस विधायक पर भारतीय दंड संहिता की लगभग सभी धाराएँ लगी है.

तेजस्वी ने कहा कि पिछले साल भी गोपालगंज में एक साथ एक परिवार के 5 लोगों की हत्या हुई थी. इतना ही नहीं, सड़क निर्माण की एक कंपनी के मालिक ने भी इसी विधायक द्वारा 50 लाख की रंगदारी माँगने का केस कराया था.

तेजस्वी ने आरोप लगाया कि अपराधी प्रवृति के विधायक अमरेन्द्र पांडे पर कारवाई करने के बावजूद नीतीश कुमार ने उसे ईनाम दिया और इस अपराधी की सुरक्षा बढ़ा दी. तेजस्वी ने पूछा कि सुशासन की खोखली बात करने वाले मुख्यमंत्री यह बताएँ कि सैंकड़ों माँओं की कोख़ और बहनों का सुहाग छिनने वाले, अनेक केसों में नामज़द हत्यारे विधायक को आज तक क्यों बचाया गया है? अभी भी इस आतंकी प्रवृति के विधायक को मुख्यमंत्री क्यों बचा रहे है?

घिसा-पीटा डायलॉग अब नहीं चलेगा

तेजस्वी ने मुख्यमंत्री को चेताया कि अब आपका “क़ानून अपना काम करेगा” वाला घिसा-पीटा डायलॉग नहीं चलेगा. और ना ही जाँच के नाम पर अब लीपापोती ही चलेगी. जनता की अदालत में हम आपकी सुशासनी लीपापोती के खेल को उजागर करेंगे. मुख्यमंत्री जी, नागरिकों की जान इतनी सस्ती नहीं कि जब मर्ज़ी आपके गुंडे विधायक उन्हें सपरिवार मौत के घाट उतार दें.

तेजस्वी ने बिहार सरकार को दो दिन की मोहलत देते हुए कहा है कि यदि गृहमंत्री-सह-मुख्यमंत्री ने अपने प्रिय इस अपराधी विधायक को दो दिनों के अंदर जेल में नहीं डाला, तो वे पटना से गोपालगंज तक आंदोलन करेंगे.

https://www.youtube.com/watch?v=gbNGo8TN1_Y?sub_confirm=1