निम्नस्तरीय बयानों पर उतर आए हैं तेजस्वी

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार में राजनीतिक दलों में बयानबाजी का दौर जोर शोर से चल रहा है.राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव भाजपा-जदयू सरकार एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की कार्यशैली और राज्य के विभिन्न मुद्दों को लेकर लगातार हमले कर रहे हैं.

इन आरोप प्रत्यारोप के पलटवार में तेजस्वी यादव को झूठा करार देते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रदेश प्रवक्ता अरविन्द कुमार सिंह ने कहा है कि विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव  झूठ बोलने में एमए पीएचडी हैं. थेथरोलाजी करना कोई इनसे सीखे.

अरविन्द कुमार सिंह ने कहा है कि विपक्ष के नेता-पद की गरिमा को भूल कर तेजस्वी यादव निम्नस्तरीय बयानों पर उतर आए हैं. यह भी नहीं देख रहे हैं कि कौन उनके पिता की उम्र का है और कौन उनसे कद व पद में बड़ा है. आगे उन्होंने कहा कि बतकुच्चन से विपक्षी नेता पद की गरिमा को गिरा रहे हैं तेजस्वी और ये राजनीति में रहने वाले लोगों के लिए चिंता की बात है.

लॉकडाउन के दौरान गरीबों और जरूरतमंदों की मदद के मुद्दे को लेकर भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता ने कहा कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए घोषित किये गए लॉकडाउन के दौरान नेता प्रतिपक्ष ने किसी भी गरीब की मदद नहीं की और न ही उनकी पार्टी के द्वारा किसी गरीब या जरूरतमंद की मदद की गयी. बिहार सरकार पूरी तत्परता और मुस्तैदी से कोरोना एवं लॉकडाउन के दौरान हुए पीड़ितों व प्रभावितों की सेवा में जुटी है तो नेता प्रतिपक्ष के पांव के नीचे से जमीन खिसक रही है.