बाढ़ को लेकर बिहार सरकार पर निकाला गुस्सा

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार में बाढ़ के खतरे को देखते हुए नीतीश सरकार के केन्द्र सरकार को भेजे गए त्राहिमाम संदेश को लेकर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने हमला बोलते हुए कहा कि बिहार में मॉनसून आ चुका है पूरे उत्तर बिहार पर बाढ़ का खतरा मंडरा रहा तो सरकार को अब याद आ रही है. इन दिनों जब नेपाल के हालिया रवैये की वजह से बिहार में बाढ़ का गंभीर खतरा पैदा हो गया है. नेपाल से आने वाली नदियों के जल स्तर पर नियंत्रण के लिए बिहार सरकार बाढ़ रक्षात्मक कार्य कराती रही है लेकिन इस बार नेपाल ने इस पर रोक लगा दी है.

नेता प्रतिपक्ष ने नेपाल के मसले पर बिहार सरकार पर सवालिया निशान खड़ा करते हुए कहा कि जब बिहार में मॉनसून का प्रवेश हो चुका है और बाढ़ का खतरा मंडरा रहा है. अब नीतीश सरकार के द्वारा विदेश मंत्रालय से गुहार लगायी जा रही है. बिहार सरकार ने पहले से इस मसले के बारे में कोई ठोस कदम क्यों नहीं उठाया.  नीतीश सरकार के द्वारा पहले कोई सुध नहीं ली अब जब सर पर खतरा मंडराने लगा है तो नीतीश सरकार को इसकी याद आ रही है.

बता दें कि गंडक बराज के 36 गेटों में से 18 नेपाल के इलाके में पड़ते हैं, जहां बाढ़ से बचाव के लिए काम कराया जा रहा था. नेपाल के नियंत्रण वाले इलाकों में बाढ़ से सुरक्षा के लिए कराए जा रहे हैं. काम पर वहां की सरकार ने रोक लगा दी है. जिससे बिहार के डूबने का खतरा बढ़ गया है. नीतीश सरकार ने इस मामले में केंद्र सरकार के पास त्राहिमाम संदेश भेजा है.