सुशील मोदी पर तेजस्वी का करारा वार

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार में विधान सभा चुनाव को स्थगित करने को लेकर राजद के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव लगातार मांग कर रहे हैं. वहीँ इसको लेकर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बयानजारी कर कहा था कि विधानसभा चुनाव समय पर हों या टल जाएँ, एनडीए आयोग के निर्णय का पालन करेगा. हम हर स्थिति के लिए तैयार हैं, लेकिन जैसे कमजोर विद्यार्थी परीक्षा को टालने के मुद्दे खोजते रहते हैं, वैसे ही राजद अपनी संभावित हार को देखते हुए आगामी विधान सभा चुनाव टालने के लिए बहाना खोज रहा है. इसके पलटवार में तेजस्वी यादव ने सुशील कुमार मोदी पर बड़ा हमला किया है.

नेता प्रतिपक्ष ने कहा, ‘श्रीमान जी आप कमजोर और गैर-स्वाभिमानी है, 2013 में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी द्वारा लात मार बाहर फेंकने के बावजूद 2017 में बेहयाई के साथ बिना किसी रीजन और विजन के सरकार में शामिल हो गए”.

आगे उन्होंने कहा है कि हिम्मत और इतने ही मज़बूत हो तो अकेले लड़ के देख लीजिए. राष्ट्रीय जनता दल के डर से 24 वर्षों  से नीतीश कुमार जी के पिछलग्गू बने हुए हो.

इसके साथ ही राजद नेता ने सड़कों और जलजमाव जैसे मुद्दों को लेकर भाजपा-एनडीए पर निशाना साधते हुए कहा है कि भाजपा के विधायक को जनता खदेड़ रही है. 15 वर्षों का विकास तैर रहा है. रविशंकर प्रसाद जी का भी गुणगान हो रहा है. पटना महानगर में वार्ड मेंबर से लेकर सांसद वर्षों से BJP/NDA के है इसलिए पटना की नरक जैसी स्थिति है. जनता को अब सोचना चाहिए. बदहाल व्यवस्था का कोई जवाब है नितीश कुमार जी?