बाहर से आनेवालों के साथ कोई बदइंतज़ामी नहीं होनी चाहिए – तेजस्वी

पटना (TBN रिपोर्ट) | पूर्व उपमुख्यमंत्री व नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बिहार सरकार से आग्रह किया है कि राज्य से बाहर फंसे मज़दूरों और बच्चों को वापस लाने के लिए अब युद्दस्तर पर व्यवस्था करनी शुरू की जानी चाहिए.

तेजस्वी ने कहा है कि अब जब केंद्र सरकार ने हमारी लगातार माँग और जन दबाव के कारण नीतिगत फ़ैसला लेते हुए बाहर फँसे हुए मज़दूरों और बच्चों को लाने की अनुमति दे दी है तो बिहार सरकार को देर और किन्तु परंतु किये अप्रवासी बिहारी श्रमवीरों को बिहार लाने की तत्काल व्यवस्था में युद्धस्तर पर लग जाना चाहिए.

उन्होंने बिहार सरकार से आग्रह किया कि देश के हरेक कोने में फंसे हरेक बिहारी को सकुशल और ससम्मान उनके घर तक पहुँचाने के काम में इनके साथ कोई बदइंतज़ामी नहीं होनी चाहिए. उन्होंने कहा कि चूँकि ये ग़रीब मज़दूर वर्ग के लोग हैं तो पहले की तरह इनके साथ कोई दिक्कत नहीं आने पाए. ये सरकार का कर्तव्य के साथ-साथ ज़िम्मेदारी भी है.

उन्होंने सरकार से यह भी अपील की कि बाहर फँसे मज़दूरों के स्वास्थ्य सुरक्षा संबंधित सभी मानकों का अनुपालन करते हुए उनकी यात्रा, भोजन और राशन का उचित प्रबंध कर सभी की सकुशल वापसी अवश्य सुनिश्चित करें.

तेजस्वी ने आशा व्यक्त की है कि अब बिहार सरकार संसाधनों का रोना नहीं रोकर, गृह मंत्रालय के निर्देशों के आलोक में केंद्र और संबंधित राज्य सरकारों से समन्वय स्थापित कर उनके लिए तुरंत बसों का प्रबंध कर वापस बुला लेगी.

साथ ही उन्होंने नीतीश सरकार से मांग की कि इन सभी बिहारवासियों को प्रस्थान से पहले चिकित्सीय परीक्षण और बिहार पहुँचने पर फिर से स्वास्थ्य जाँच, इलाज़ और अच्छे क्वॉरंटीन केंद्रों में की क्वॉरंटीन की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए.