सीबीआई छापेमारी पर तेजस्वी यादव का तंज – ‘ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से…’

लंदन / पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बिहार की सियासत शुक्रवार की सुबह अचानक उस वक्त गर्म हो गई, जब तड़के पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर सीबीआई की टीम ने छापेमारी (CBI raid on former Chief Minister Rabri Devi’s official residence at Patna) की.

बता दें कि सीबीआई ने रेलवे भर्ती घोटाले में पूर्व रेल मंत्री लालू प्रसाद यादव (Former Railway Minister Lalu Prasad Yadav in Railway Recruitment Scam) के पटना, दिल्ली और गोपालगंज में 16 ठिकानों पर छापेमारी की है. इस छापेमारी के बाद बिहार में सक्रिय राजनीतिक दलों की अपनी-अपनी प्रतिक्रियाएं हैं.

यह भी पढ़ें| ब्रेकिंग: लालू पर सीबीआई की कार्यवाई, एक साथ 15 जगहों पर किया रेड

सीबीआई की इस छापेमारी पर लालू प्रसाद यादव की पार्टी राजद ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. इस मुद्दे पर बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता और लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव (leader of opposition in Bihar Assembly and son of Lalu Prasad Yadav, Tejashwi Yadav) ने ट्वीट कर इसे राजनीतिक साजिश बताया है. उन्होंने लिखा, ‘सत्य और तथ्य का मार्ग अग्नि पथ है जिस पर चलना मुश्किल है लेकिन असंभव नहीं है. देर हो सकती है लेकिन जीत हमेशा सच की होती है“. दो घंटे पहले किए गए इस ट्वीट को अब तक 6412 लोग लाइक कर चुके हैं, वहीं 1359 लोगों ने इसे रीट्वीट किया है.

तेजस्वी का ताजा ट्वीट

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया –
सत्य व तथ्य का मार्ग वह अग्निपथ है जिस पर चलना कठिन है पर असंभव नहीं. देर से ही सही लेकिन विजय सदैव सत्य की ही होती है.
लड़ रहे है, जीत रहे है.
लड़ते रहेंगे, जीतते रहेंगे.
ऐ हवा जाकर कह दो, दिल्ली के दरबारों से
नहीं डरा है नहीं डरेगा, लालू इन सरकारों से.

बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी के ट्वीट का स्क्रीनशॉट

26 दिसंबर 2017 का ट्वीट

हालांकि, इस ट्वीट के ठीक ऊपर तेजस्वी यादव ने 26 दिसंबर 2017 के अपने ट्वीट को पिन किया है. तेजस्वी यादव ने आज सीबीआई की छापेमारी को लेकर जिस तरह से एनडीए की केंद्र सरकार पर तंज कसा है, वही तीखापन उनके 2017 के ट्वीट में भी है. 26 दिसंबर 2017 को उन्होंने बीजेपी की राजनीति के बारे में लिखा, “अगर लालू जी ने बीजेपी से हाथ मिलाया होता, तो वे आज भारत के राजा हरिश्चंद्र होते. अगर लालू जी का डीएनए बदल जाता तो तथाकथित चारा घोटाला दो मिनट में भाईचारा घोटाला बन जाता.

हेमा यादव पहली बार बनीं आरोपी

बता दें कि सीबीआई ने शुक्रवार को लालू प्रसाद यादव, उनकी पत्नी राबड़ी देवी और दो बेटियों (मीशा भारती और हेमा यादव) समेत 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. खास बात यह है कि लालू प्रसाद यादव को सीबीआई की प्राथमिकी में पहला और मुख्य आरोपी बनाया गया है, जबकि राबड़ी देवी दूसरी आरोपी हैं. तीसरे और चौथे नंबर के आरोपियों में मीसा भारती और हेमा यादव हैं. बता दें कि लालू यादव की बेटी हेमा यादव को पहली बार किसी मामले में आरोपी बनाया गया है.

ये हैं सीबीआई की प्राथमिकी के आरोपी

सीबीआई ने जिन 16 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है उनमें लालू प्रसाद यादव, राबड़ी देवी, मीशा भारती, हेमा यादव, राजकुमार सिंह, मिथिलेश कुन्नार, अजय कुन्नार, संजय राय उर्फ ​​संजय कुन्नार, धर्मेंद्र राय उर्फ ​​धर्मेंद्र कुमार, विकास कुमार, पिंटू कुमार, दिलचंद कुमार, प्रेम चंद कुमार, लाल चंद कुमार, हृदयानंद चौधरी और अभिषेक कुमार शामिल हैं.