प्रवासी मजदूरों के मुद्दे पर नीतीश सरकार पर बोला हमला

 पटना (संदीप फिरोजाबादी की रिपोर्ट) | प्रवासी बिहारी मजदूरों के मुद्दे को लेकर नीतीश सरकार पर हमला करते हुए राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा है कि दिल्ली सरकार बिहारी मजदूरों को लौटने का किराया दे रही है, यह राज्य के लिए शर्म की बात है. हम दिल्ली सरकार के आभारी है. साथ ही दिल्ली सरकार का पैसा वापस करने के लिए खाते की जानकारी मांगी है. इसको लेकर तेजस्वी यादव ने ट्वीटर पर ट्वीट करते हुए है कहा है कि ;

 “Thank you so much @ArvindKejriwal Ji!

We are sorry for the insensitivity shown by Bihar govt. As a responsible opposition we offer our support in terms of financial contribution in taking back migrant Bihari workforce. Pls let us know the modalities of transferring the money.

 “बहुत बहुत धन्यवाद @ArvindKejriwal जी!

बिहार सरकार द्वारा दिखाई गई असंवेदनशीलता के लिए हमें खेद है. एक जिम्मेदार विपक्ष के रूप में हम प्रवासी बिहारी कार्यबल को वापस लेने में वित्तीय योगदान के संदर्भ में अपना समर्थन प्रदान करते हैं. Pls हमें धन हस्तांतरित करने के तौर-तरीकों के बारे में बताएं”.

तेजस्वी यादव ने कहा है कि शुक्रवार को दिल्ली से बिहारी श्रमवीरों की ट्रेन मुज़फ़्फ़रपुर के लिए रवाना हुई. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनका किराया अदा किया. ऐसा इसलिए हुआ कि बिहार सरकार समय पर टिकटों के किराए को लेकर ना ही कोई संतोषजनक जवाब दे सकी और ना ही निर्णय ले सकी. यह दिल्ली सरकार की मानवता है लेकिन बिहार सरकार के लिए शर्मसार करने वाली घटना है.

तेजस्वी ने कहा कि कोरोना काल में सरकार के कारण बिहारी अस्मिता को लगातार चोट पहुंच रही है. हमने एक विपक्ष के नाते निर्णय लिया कि बिहार सरकार की असमर्थता के चलते  हम 50 ट्रेनों का किराया देने के लिए तैयार है. हम शुरू से कह रहे है कि नीतीश सरकार की अप्रवासी मज़दूर भाईयों को वापस बुलाने की कोई मंशा और योजना नहीं है.

आगे उन्होंने कहा कि विपक्ष और जनदबाव में ख़ानापूर्ति करने के लिए ये प्रतिदिन गिनी-चुनी ट्रेन चलाने की औपचारिकता मात्र निभा रहे है ताकि लोग विरोध प्रकट ना कर सकें. हमने दिल्ली सरकार को धन्यवाद देने के साथ-साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री से विनम्र आग्रह किया है कि वो दिल्ली  सरकार के खाते में किराया राशि ट्रांसफ़र कराने की प्रक्रिया बताने का कष्ट करें.