तेजप्रताप ने अपने भाई तेजस्वी के खिलाफ पहली बार खोला मोर्चा

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के खिलाफ बोलने वाले तेजप्रताप यादव शुक्रवार को अपने भाई तेजस्वी के खिलाफ पहली बार बगावती तेवर दिखाए हैं.

तेजस्वी के खिलाफ पहली बार बोलते हुए तेजप्रताप ने कहा कि एक तरफ बिहार में लोग बाढ़ से डूब रहे हैं, और उधर तेजस्वी बिहार छोड़कर दिल्ली चले गए हैं.

तेजप्रताप ने जगदानन्द सिंह को महाभारत का शिशुपाल और तेजस्वी के सलाहकार संजय यादव को दुर्योधन का नाम दे डाला.

अपने छोटे भाई तेजस्वी के खिलाफ पहली बार मोर्चा खोलते हुए कहा, “बिहार में लोग बाढ़ से डूब रहे हैं. बाढ़ में घूमने का काम तेजस्वी को करना चाहिए. घूमने का काम किया भी है लेकिन संजय यादव भड़काकर दिल्ली लेकर चला गया है. संजय यादव जनता से दूर कर रहे हैं. बिहार से बाहर क्यों लेकर गए. तेजस्वी नेता प्रतिपक्ष हैं. हम मिले भी हैं. ऐसा तो कोई बात नहीं हुआ था. संजय यादव का अपना घर-बार नहीं है, अपने बाल बच्चों को देखें.”

Also Read | तेजस्वी ने कहा, तेज प्रताप यादव को अनुशासित होना चाहिए

तेज प्रताप ने जगदानन्द सिंह को महाभारत का शिशुपाल बताया. आगे कहा, “मैं पिता से मिलने दिल्ली जाऊंगा और बात करूंगा. जब तक जगदानंद को नहीं हटा लेता तब तक मैं सांस नहीं लूंगा. जब मैं अपनी बात को तेजस्वी से रख रहा था, तब संजय यादव तेजस्वी को लेकर चला गया. संजय दुर्योधन की भूमिका में है. हमारे पिता जी दिल्ली में बैठे हैं. अगर वो सुन रहे हैं तो वो दूध का दूध पानी का पानी क्यों नहीं करते हैं. हम बात करेंगे. तेजस्वी यादव सुनेंगे मेरी बात को. उन्हे सीएम बनना है. अपने पक्ष में उनको ले लेंगे. वह अभी बच्चे हैं.”