वेतन भुगतान संबंधी आदेश शिक्षकों के साथ विश्वासघात – आरजेडी

teachers-are-being-betrayed-by-salary-payment-orders

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के साथ माध्‍यमिक शिक्षक संघ की वार्ता के बाद शिक्षकों की लम्बे समय से चली आ रही हड़ताल को वापस लेने की घोषणा के बाद राज्य सरकार ने हड़ताली शिक्षकों के लिए वेतन भुगतान का आदेश जारी कर दिया है. इसके साथ ही शिक्षा विभाग ने हड़ताली शिक्षकों के ज्वायनिंग को लेकर भी दिशा निर्देश जारी किए हैं.

लेकिन अब इस पर भी राष्टीय जनता दल  (राजद) पार्टी प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने शिक्षकों के वेतन भुगतान संबंधी बिहार सरकार के आदेश को विसंगति पूर्ण बताते हुए कहा कि इससे सरकार की विश्वसनीयता संदिग्ध हो जायेगी.

पार्टी प्रवक्ता चित्तरंजन गगन ने कहा है कि सरकार द्वारा हड़ताली शिक्षकों के योगदान और वेतन भुगतान के संबंध में आदेश जारी किया गया है. जिसमें कहा गया है कि हड़ताल अवधि का वेतन भुगतान के संबंध में अलग से आदेश जारी किया जायेगा, जो किसी भी रूप में तर्कसंगत और न्यायोचित नहीं है.

चित्तरंजन गगन ने आगे कहा कि कोरोना वायरस से जूझ रहे प्रदेश में अपनी सक्रिय सहयोगात्मक भूमिका को महसूस करते हुए शिक्षकों द्वारा सरकार के साथ सकारात्मकता वार्ता कर हड़ताल समाप्त करने का निर्णय लिया गया पर सरकार द्वारा जारी आदेश में जिस प्रकार हड़ताली शिक्षकों के वेतन भुगतान संबंधी मामले को टाल दिया गया है, उससे सरकार की विश्वसनीयता पर हीं सवाल खड़ा हो जाता है और इससे शिक्षकों के बीच एक गलत संदेश जाएगा. साथ हीं इसका दुष्प्रभाव उनके कार्य क्षमता पर पड़ेगा.

राजद नेता ने सरकार से आग्रह करते हुए है कहा कि, वह पूर्वाग्रह छोड़कर शीघ्र हड़ताली शिक्षकों के वेतन भुगतान संबंधी आदेश जारी करे.