बिहार में खराब प्रदर्शन के लिए तारिक अनवर ने राज्य नेतृत्व को ठहराया दोषी

पटना / नई दिल्ली (TBN – The Bihar Now डेस्क)| हाल ही में संपन्न बिहार विधानसभा चुनावों में पार्टी के प्रदर्शन पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल द्वारा केंद्रीय नेतृत्व पर सवाल उठाए गए हैं. सिब्बल द्वारा केंद्रीय नेतृत्व से सवाल किए जाने के कुछ घंटों बाद पार्टी नेता तारिक अनवर ने पार्टी के बिहार इकाई के नेतृत्व को इस अवसर का सही उपयोग न करने का दोषी ठहराया.

अनवर ने कहा कि राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेतृत्व में महागठबंधन (महागठबंधन) ने कांग्रेस को बिहार विधानसभा की 243 सीटों में से 70 सीटों का आवंटन किया था. इनमें से उसने केवल 19 सीटें जीती हैं. अनवर ने आगे कहा, “हमें बिहार में अपने प्रदर्शन पर चर्चा करने की जरूरत है. हालांकि, यह पार्टी का राष्ट्रीय मुद्दा नहीं है, बल्कि जहां तक ​​केंद्रीय नेतृत्व का सवाल है, उन्होंने हमारा समर्थन किया. यह बिहार नेतृत्व की गलती है.”

यह भी पढ़ें आप – नीतीश कुमार सहित तारकिशोर, रेणु देवी, विजय चौधरी आदि ने लिया शपथ

उन्होंने कहा, “हम सभी मानते हैं कि इस चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन पर मंथन की आवश्यकता है. हमारे जैसे नेता जो खुद को बिहार के नेता कहते हैं, उनकी यह जिम्मेदारी बनती है. मैंने अपने बयान में भी यही सवाल उठाया था कि पार्टी की राज्य इकाई को अपने प्रदर्शन पर आत्मनिरीक्षण करना चाहिए.”

गौरतलब है कि एक प्रमुख अंग्रेजी समाचार पत्र को दिए साक्षात्कार में सिब्बल ने कहा था कि नेतृत्व ने मुझे कुछ भी नहीं बताया है, इसलिए मुझे नहीं पता. मैं केवल उन आवाजों को सुनता हूं जो नेतृत्व को घेरे हुए हैं. बिहार में हमारे हालिया प्रदर्शन और उप-चुनावों में कांग्रेस पार्टी क्या कहती है, यह देखना अभी बाकी है. शायद उन्हें लगता है कि हमेशा की तरह सब ठीक है और इस पर ज्यादा ध्यान नहीं देना चाहिए.”

बताते चलें कि बिहार विधानसभा चुनावों में एनडीए ने 243 सीटों वाली मजबूत बिहार विधान सभा में 125 सीटों का बहुमत हासिल किया है, जिसमें से बीजेपी ने 74 सीटों पर, जेडी (यू) ने 43 पर जबकि आठ सीटों पर दो अन्य एनडीए घटकों ने जीत हासिल की है. दूसरी ओर, राजद 75 सीटों के साथ एकल-सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी, जबकि कांग्रेस ने केवल 70 सीटों में से 19 पर जीत हासिल की थी.