ब्रेकिंग: सुषमा साहू ने दिया बीजेपी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | पटना के बांकीपुर विस क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नामांकन करने वाली बीजेपी नेत्री सुषमा साहू ने आज पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने यह कदम अपने नामांकन के रद्द होने के बाद किया.

आज प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सुषमा ने कहा कि उनका नामांकन जानबूझ कर रद्द किया गया है. उन्होंने बीजेपी नेतृत्व पर आरोप लगाते हुए कहा कि पिछड़े समाज और एक साधारण से परिवार से आने के कारण उन्हें चुनाव लड़ने से रोक दिया गया.

पार्टी पर लगाया उपेक्षा का आरोप

सुषमा ने बांकीपुर विस के वर्तमान विधायक और पार्टी नेतृत्व पर आरोप लगाते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया. राष्ट्रीय महिला आयोग की पूर्व सदस्य सह बीजेपी नेत्री ने पार्टी नेतृत्व पर कई गंभीर आरोप लगाए हैं. सुषमा साहू का कहना है कि उन्होंने लगातार 20 साल पार्टी की सेवा की है. विधायक के हनुमान के रुप में काम भी किया. स्थानीय विधायक के खिलाफ कार्यकर्ताओं में भी भारी नाराजगी है.

सुषमा साहू ने अपना इस्तीफा बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल को भेजा. इस पत्र में उन्होंने लिखा, “मुझे लगता है मैंने जो परिवारवाद, वैश्य समाज की उपेक्षा और महिलाओं की भागीदारी को कम करना सभी विषयों से हमारा भाजपा परिवार कोसों दूर होती जा रही है. इन सभी बिंदुओं के साथ हमने अपने समर्थकों एवं समाज के साथ बैठक की जिसके बाद मैंने निर्णय लिया कि मैं सुषमा साहू पार्टी के सभी पदों के साथ प्राथमिक सदस्यता से त्याग पत्र दे रही हूँ और अब मैं भविष्य में परिवारवाद, वैश्य समाज की उपेक्षा और महिलाओं के अधिकार के लिए संघर्ष करूंगी”.

उन्होंने अपने इस्तीफे में लिखा कि “हमेशा से हमारा वैश्य समाज बंधुआ वोटर बन कर रह गया है और आज मैं इस बंधुआगिरी से खुद को विमुक्त करती हूँ”. उन्होंने आगे लिखा है कि “जीवन में पहली बार राजनीतिक सदस्यता भाजपा की रही थी जिससे मैं आज खुद को स्वतंत्र कर रही हूँ”.