संगठन को मजबूत करना, कार्यकर्ताओं में उत्साह भरना मेरा लक्ष्य – ललन

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद संभालने के बाद राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह शुक्रवार दोपहर पहली बार बिहार पहुंचे. पटना पहुंचने पर इनका पार्टी के लोगों ने जबरदस्त स्वागत किया.

भीड़ इतनी कि पटना एयरपोर्ट से जदयू कार्यालय पहुंचने में ललन सिंह के काफिले को तीन घंटे से ज्यादा समय लग गए. गाड़ियों की लंबी कतारें चल रही थी और वे एक खुली कार में चल रहे थे. जबरदस्त उत्साह व अपने स्वागत को देखकर ललन सिंह ने पार्टी से जुड़े कार्यकर्ताओं और नेताओं का आभार जताया.

एयरपोर्ट से पार्टी ऑफिस जाने के क्रम में मीडिया से बात करते हुए ललन ने कहा कि संगठन को मजबूत करना, कार्यकर्ताओं में उत्साह भरना और उत्साहित कार्यकर्ता साथियों के माध्यम से माननीय मुख्यमंत्री के द्वारा किये गए व किये जा रहे जनहितकारी कार्यो को घर-घर तक पहुंचाना उनका मुख्य लक्ष्य है.

पार्टी कार्यालय पहुंचने पर ललन ने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री ने जो जिम्मेदारी दी है, उसे वे ईमानदारी से पूरा करेंगे. जदयू स्थित कर्पूरी सभागार में सम्मान समारोह में उन्होंने कहा कि पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को उचित सम्मान व हिस्सेदारी मिलेगी.

पार्टी अध्यक्ष नहीं बल्कि कार्यकर्ताओं से चलती है

समारोह में पार्टी के कार्यकर्ताओं व उपस्थित नेताओं से उन्होंने कहा कि कोई भी पार्टी उसके अध्यक्ष नहीं बल्कि कार्यकर्ताओं के द्वारा अपनी जवाबदेही ईमानदारी से निभाने से चलती है. ललन ने कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे पार्टी व संगठन को मजबूत करने में लग जाएं.

उन्होंने कहा कि वे पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं को उचित सम्मान व हिस्सेदारी देंगे तथा उनके साथ खुद मुस्तैदी के साथ कंधा से कंधा मिलाकर चलेंगे. पार्टी के सभी कार्यकर्ताओं से उन्होंने आग्रह किया कि वे पिछले 15 वर्षों में नीतीश कुमार द्वारा किए गए कार्यों के बारे में राज्य की जनता को उनके घर जाकर बताएं.

जिम्मेदारी को सौ प्रतिशत निभा पाएंगे

पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ताओं में आज उत्साह देखकर पूरा विश्वास है कि नीतीश कुमार द्वारा दी गई जिम्मेदारी का वे सौ प्रतिशत निभा पाएंगे. पार्टी कार्यकर्ताओं के उत्साह को देखकर उन्होंने सबको धन्यवाद दिया. इस समारोह में भीड़ इतनी थी कि ललन सिंह के संबोधन के समय स्टेज पर इतनी भीड़ हो गई थी कि धक्का-मुक्की जैसी स्थिति उत्पन्न हो गई.

Also Read | राजीव गांधी के बदले अब मेजर ध्यानचंद के नाम पर होगा देश का सर्वोच्च खेल सम्मान

ललन ने कहा कि वे जब भी पटना में रहेंगे, 12 बजे से पार्टी कार्यालय में कार्यकर्ताओं के लिए उपस्थित रहेंगे. इस दौरान वे एक-एक कार्यकर्ता की बात सुनकर शाम में कार्यालय से घर जाएंगे.

इधर पार्टी के कई नेता कह रहे हैं कि नीतीश कुमार के साथ कई दशकों से काम करने के कारण ललन सिंह को राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी विस्तार करने में कोई कठिनाई नहीं होगी.

सवर्णों को साधने की कोशिश ?

बताया जा रहा है कि जदयू ने ललन सिंह को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाकर सवर्णों को साधने की कोशिश की है. बता दें कि राज्य में प्रमुख विपक्षी पार्टी आरजेडी (RJD) ने भी एक सवर्ण, जगदानंद सिंह को अपना प्रदेश अध्यक्ष बना रखा है. ललन सिंह के मार्फत जदयू अपने वोट समीकरण को और मजबूत करने की कोशिश करेगा.