शहीदों के परिवार को 36-36 लाख रुपये अनुग्रह अनुदान, एक-एक आश्रितों को सरकारी नौकरी

पटना (TBN रिपोर्ट) | भारत-चीन सीमा लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर गलवान घाटी में भारतीय सैनिकों और चीनी सैनिकों के बीच हिंसक झड़प में शहीद हुए भोजपुर जिले के ज्ञानपुरा जगदीशपुर निवासी बिहार रेजीमेंट के 16वी बटालियन के सिपाही चंदन कुमार सहरसा जिले के ग्राम अरन निवासी बिहार रेजीमेंट के 16वी बटालियन के सिपाही कुंदन कुमार समस्तीपुर जिला के ग्राम सुल्तानपुर पूरब पटोरी निवासी बिहार रेजीमेंट के 16वी सिपाही बटालियन के सिपाही अमन कुमार वैशाली जिला के ग्राम जनसाह निवासी बिहार रेजिमेंट के 12वीं बटालियन के सिपाही जय किशोर तथा साहिबगंज झारखंड निवासी कुंदन कुमार ओझा के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि देने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज पटना स्थित जयप्रकाश नारायण हवाई अड्डा पर पहुंचे.

बता दें बिहार के पटना जिले से बिहटा थाना अंतर्गत ग्राम तारानगर निवासी एक और शहीद बिहार रेजिमेंट के 16वी बटालियन के हवलदार सुनील कुमार का पार्थिव शरीर कल पटना पहुंचा था और उनका अंतिम संस्कार पुलिस सम्मान के साथ किया गया.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गलावन घाटी में शहीद हुए बिहार के जवानों के परिवार को राज्य सरकार की ओर से 11-11 लाख रुपये अनुग्रह अनुदान दिए जाने की घोषणा करते हुए कहा कि पांचों शहीदों के परिवार को मुख्यमंत्री राहत कोष से 25-25 लाख रुपये देने के अलावें एक-एक आश्रितों को सरकारी नौकरी दी जाएगी.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ हवाई अड्डे पर उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव, कृषि मंत्री प्रेम कुमार, पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी, जल संसाधन मंत्री संजय झा, श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा, सूचना एवं जन-सम्पर्क मंत्री नीरज कुमार, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण, पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय, अपर मुख्य सचिव गृह आमिर सुबहानी, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार, अपर पुलिस महानिदेशक जेएस गंगवार, प्रमण्डलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल, जिलाधिकारी कुमार रवि, वरीय पुलिस अधीक्षक उपेन्द्र शर्मा सहित बीआरसी दानापुर के वरीय पदाधिकारियों ने भी अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि दी.