कोरोना संकट के बीच RLSP का उपवास

पटना (TBN रिपोर्ट) :- बिहार में कोरोना महामारी के प्रकोप और लॉकडाउन के बीच राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा के साथ पार्टी के सभी नेताओं ने आज उपवास रखा. रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा आज अपने पैतृक आवास पर 9:30 से 11:30 तक उपवास पर बैठे थे.  दिल्ली में रालोसपा के प्रधान महासचिव माधव आनंद अपने घर में ही सांकेतिक उपवास पर बैठे थे.

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के सभी नेता और कार्यकर्ता अपने-अपने घर पर उपवास पर बैठे. उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार सरकार पर निशाना साधते हुए विभिन्न मुद्दों को लेकर उपवास रखा है. उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार सरकार से निम्नलिखित मांगें की हैं.

  • सभी जरूरतमंदों को फिलहाल बिना राशनकार्ड (आधार कार्ड या मतदान पहचान पत्र के आधार पर) देखे राशन उपलब्ध करवाना
  • नावकोठी (बेगूसराय) गोह (औरंगाबाद) राज्य के अन्य कई हिस्सों में पुलिस द्वारा की गई बर्बरतापूर्ण कार्रवाई के खिलाफ उपवास
  • राज्य के बाहर फंसे बिहारी मजदूरों, विद्यार्थियों एवं अन्य लोगों की बिहार वापसी की मांग
  • असमय वर्षा, आंधी,.तूफान, ओलावृष्टि और लॉकडाउन के कारण फसल कटाई में विलम्ब के चलते किसानों की हुई क्षति की हो भारपाई
  • बिहार के सभी किसानों के कृषि उत्पाद धान, गेहूं, दलहन, और तिलहन की सरकारी खरीद समर्थन मूल्य पर नगद खरीदने की व्यवस्था की जाए
  • बिहार में मजदूरों-कामगारों को रोजगार उपलब्ध कराई जाए
  • बिहार में आंदोलनरत शिक्षकों की समस्याओं का समाधान करने और अविलंब वेतन भुगतान सुनिश्चित की जाए.

उपवास को लेकर उपेन्द्र कुशवाहा ने ट्वीट कर कहा था कि,

 ‘सत्याग्रह की आस, आओ करें #उपवास”#COVID संकट में आमजनों के प्रति सरकार की संवेदनहीनता के विरोध में एवं अपनी सात सूत्री मांगों को लेकर रालोसपा साथियों के साथ आज 09:30 AM से सांकेतिक उपवास.

राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (रालोसपा) के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा के साथ पार्टी के सभी नेता सातसूत्री मांगों को लेकर 25 अप्रैल को उपवास पर थे. सभी पदाधिकारी और नेता अपने-अपने घरों के बाहर दरवाजे पर सोशल डिस्टन्सिंग का ख्याल रखते हुए मास्क लगाकर उपवास पर बैठे थे.