दस लाख नौकरी नहीं, दस लाख कट्टे बांटेगा राजद

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | “लालू राज को लोग जंगल राज ऐसे ही नहीं कहते है. लालू के चारा घोटाले से लेकर लालू यादव के राज में बढ़ी गरीबी, अपराध और बेरोज़गारी किसी से छुपी नहीं है” – ये हम नहीं बल्कि बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने ट्वीट करके कहा है.

सुशील मोदी ने अपने ट्वीट में जानकारी देते हुए कहा है कि एक बार फिर लोगो को जंगल राज का एहसास तब हुआ जब एक विधायक से उनके ही विधान सभा क्षेत्र से दलित मतदाता ने पांच साल के काम ब्योरा मांग लिया, तो विधायक जी फोन पर ही उसे भद्दी-भद्दी गालियां देने लगे.

आगे उन्होंने लिखा कि घटना जगदीशपुर की है जहां RJD के उम्मीदवार उनपर लगे मुकदमों को वापस लेने के लिए पुलिस वाले को धमकी देते हुए दिखे. वायरल वीडियो में RJD के उम्मीदवार पुलिस थाना उड़वाने की धमकी देते रिकार्ड कर लिए गए.

सुशील मोदी ने ट्वीट करके कहा कि, “सोशल मीडिया पर चलने वाले दोनों आडियो-वीडियो टेप यदि सही हैं तो जाहिर है कि लालू प्रसाद की पार्टी बिहार में फिर जंगल राज लाना चाहती है. गलती से भी अगर उनकी सरकार बनी, तो वे दस लाख लोगों को नौकरी नहीं, दस लाख कट्टे जरूर थमा सकते हैं”.