आरजेडी एमएलसी ने सीएम आवास के बाहर शराब की डिलीवरी का किया दावा

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| शराबबंदी को लेकर लगातार हमला बोल रही आरजेडी के एक एमएलसी ने मुख्यमंत्री आवास के बाहर शराब की डिलीवरी होने का बयान देकर सनसनी फैला दी है.

आरजेडी के एमएलसी सुनील कुमार सिंह ने यह कहकर सनसनी फैला दी है कि मुख्यमंत्री आवास, 1 अन्ने मार्ग के बाहर अब शराब की डिलीवरी होती है. उन्‍होंने कहा कि सरकार के साथ साथ पुलिस शराबबंदी को लेकर तत्‍पर नहीं है. उन्‍होंने ताल ठोक कर कहा कि यदि पुलिस ईमानदारी से जांच करना चाहे तभी असलियत सामने आएगी.

बता दें कि शराबबंदी को लेकर राज्य सरकार पर आरजेडी लगातार हमला कर रही है. बुधवार को सीतामढ़ी में शराब माफिया के द्वारा एक सब इंस्पेक्टर की मौत पर विपक्ष नीतीश सरकार पर और ज्यादा हमलावर हो गया है.

आरजेडी एमएलसी के इस बयान के बाद सदन के अंदर और बाहर सनसनी फैल गई है. इस मुद्दे को लपकते हुए कांग्रेस के एमएलसी प्रेमचंद मिश्रा ने सीतामढ़ी कांड की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है. प्रेमचंद मिश्रा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से सीतामढ़ी कांड पर पूरे मामले में सदन में जवाब देने को कहा है.

आप यह भी पढ़ेंआधे हो सकते हैं पेट्रोल-डीजल के दाम

प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि सीतामढ़ी की घटना यह दर्शाती है कि राज्य में शराब माफिमाओं का सूबे में मनोबल बहुत बढ़ गया है. उन्होंने कहा कि सूबे में जब पुलिसवाले ही सुरक्षित नहीं हैं तो आम जनता की रक्षा कौन करेगा. मिश्रा ने सीएम नीतीश कुमार से पूछा है कि राज्य में आखिर ला एंड ऑर्डर की समस्या इतनी क्यों बिगड़ रही है.

तेजस्वी ने नीतीश को बताया चिट मिनिस्टर

बताते चलें कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने भी सीतामढ़ी जिले में शराब तस्करों द्वारा इंस्पेक्टर की हत्या को लेकर नीतीश सरकार पर हमला बोला था. उन्‍होंने कहा कि बिहार में कानून-व्यवस्था पूरी तरह से भगवान के भरोसे है, यही कारण है कि दारोगा हो या कोई और पुलिसकर्मी, उन्‍हें सरेआम गोली मार दी जाती है. वहीं, तेजस्‍वी ने लगे हाथों नीतीश कुमार को चिट मिनिस्टर करार दिया और कहा कि नेता तो नीतीश कुमार कभी हुए ही नहीं.