रघुवंश प्रसाद सिंह ने उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा वापस लेने से किया इनकार

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | पूर्व केन्द्रीय मंत्री व आरजेडी के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह की पार्टी से नाराजगी अभी कम नहीं हुई है. तेजस्वी के साथ हुई बैठक का भी कोई फ़ायदा नहीं हुआ. रघुवंश प्रसाद सिंह अपनी बातों पर अडिग है. बता दें कि रघुवंश प्रसाद सिंह ने उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा वापस लेने से इनकार कर दिया. इस बारे में तेजस्वी ने उन्हें मनाने की काफी कोशिशें की लेकिन वह नहीं माने.

बताया जा रहा हैं कि पूर्व सांसद रामा सिंह को आरजेडी में शामिल कराने को लेकर रघुवंश प्रसाद सिंह नाराज चल रहे हैं. कोरोना संक्रमित होने के समय ही उन्होंने तेजस्वी के इस फैसले पर कड़ी आपत्ति दर्ज कराते हुए पार्टी से इस्तीफा दे दिया. पार्टी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव ने इस्तीफे को नामंजूर कर दिया था.

उस दिन से आजतक रघुवंश प्रसाद सिंह को मनाने की कोशिशें की जा रही है. लेकिन उन्होंने साफ़ कह दिया है आरजेडी में या तो वह खुद रहेंगे या फिर रामा सिंह रहेंगे.

वहीं दूसरी ओर तेजप्रताप ने रघुवंश प्रसाद सिंह के स्टैण्ड पर पलटवार करते हुए कहा कि आरजेडी एक समुद्र हैं. समुद्र में से एक लोटा पानी निकल जाने से समुद्र को कोई फर्क नहीं पड़ेगा. हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उनकी नाराजगी को जल्द दूर कर लिया जाएगा. ज्यादा दिन तक वो पार्टी से अलग नहीं रहेगें.

बता दें अपने धुर विरोधी के आरजेडी में शामिल कराने की कोशिश से नाराज रघुवंश प्रसाद ने 23 जून को राजद के उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था. बाद में लालू ने इस मामले में दखल दिया और तेजस्वी को अपना फैसला बदलना पड़ा.

Advertisements