राबड़ी आवास में निकले नाग के मारने पर शुरू हुई सियासत

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | RJD अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी के सरकारी आवास में आज नाग निकलने से दहशत फैल गई. बताया जा रहा कि करीब पांच फीट लंबा नाग देखे जाने से अफरा-तफरी फैल गई और लोग इधर-उधर भागने लगे. नाग को बड़ी मशक्कत के बाद मार दिया गया. चुनावी मौसम होने के कारण अब नाग को मरने पर सियासत शुरू हो गई है. जदयू ने इसे पाप करार दिया है.

जेडीयू नेता ने इस मामले पर टिप्पणी करे हुए कहा, कार्तिक मास में लोग भगवान शंकर की पूजा करते हैं. लालू जी तो खुद भगवान शंकर के भक्त हैं. उनके सपने में आकर भगवान शंकर ने कहा था कि बकरा मत खाना और लालू जी ने छोड़ दिया था. आज के दिन भगवान शंकर के गले में लिपटे रहने वाले नाग देवता की हत्या हो गई. वह भी लालू-राबड़ी के आवास में.

अजय आलोक ने कहा कि मैं इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता हूं, लेकिन बस मन दुखी हो गया. यह किसी भी कीमत पर आज नहीं होना चाहिए था. जीव हत्या तो वैसे भी पाप है. मौके पर वन विभाग को सूचित किया जाता तो संभवतः उस नाग की जान बच सकती थी.

बता दें कि लालू प्रसाद यादव कुछ दिनों के लिए शाकाहारी भी बने थे. इसके पीछे कहानी यह है कि 2001 में जब वह चारा घोटाला मामले में न्यायिक हिरासत में थे, तो भगवान शिव उनके सपने में आए और उन्हें शाकाहारी बनने की ‘सलाह’ दी. उन्होंने खुद ही बताया था कि भगवान की सलाह पर अमल करने के बाद वे देश के रेल मंत्री बने.