पहली ही बरसात में सरकारी दावों की निकली हवा – पप्पू यादव

पटना (TBN रिपोर्ट) | राजधानी पटना में बारिश के बाद हुए जलजमाव को लेकर जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव ने कहा कि पटना में 17 संप हाउस बनाने का टेंडर निकाला गया था, लेकिन आज तक यह नहीं बन सका.  करोड़ों रुपये कहां गए किसी को नहीं मालूम.  पटना नगर निगम के विभिन्न अंचलों में नालों की सफाई और जलजमाव से निपटने के लिए लाखों रुपए जारी किए गए थे. लेकिन पहली बारिश में ही सारी पोल खुल गई.

पप्पू यादव ने नीतीश से सवाल करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जी को यह बताना चाहिए कि उन्होंने संप हॉउस के निरिक्षण में क्या कमियाँ पाई . अगर कमियां थी, तो दोषी ठेकेदारों और संबधित अधिकारियों पर कारवाई क्यों नहीं की गई . पहली ही बरसात में सरकारी दावों की हवा निकल गई . पप्पू यादव रविवार को प्रेस कांफ्रेंस के दौरान मीडियाकर्मियों को संबोधित कर रहे थे. 

इसके साथ ही जाप अध्यक्ष पप्पू यादव ने भारत-चीन सीमा विवाद पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि, अगर चीनी सेना भारत में नहीं घुसी तो क्या लद्दाख का गलवान इलाका चीन का है? प्रधानमंत्री के इस बयान को चीन की मीडिया पिछले दो दिनों से चला चीनी सेना के कृत्यों को सही ठहरा रही हैं. चीन ने भारत के 38 हजार वर्ग किलोमीटर पर कब्ज़ा कर लिया है.

आगे उन्होंने कहा कि क्या प्रधानमंत्री ने ये मान लिया है कि चीन ने हमारे भू-भाग पर कोई कब्ज़ा नहीं किया है क्यूंकि प्रधानमंत्री के बयान से यह साफ़ है की उन्हें देश की जमीन से ज्यादा अपनी राजनीतिक जमीन को बचाने की फ़िक्र हैं. जाप अध्यक्ष ने कहा कि बीसीसीआई ने चीनी मोबाईल कंपनी विवो (VIVO) के साथ करार कर रखा है. और इसमें अमित शाह के बेटे जय शाह सचिव है और अनुराग ठाकुर के भाई अरूण धूमल कोषाध्यक्ष है. ये सब सिर्फ पैसे के पीछे पड़े हैं. देश के सम्मान और अस्मिता की फिक्र नहीं है. अगर बीसीसीआई ने आठ दिनों में चीनी कंपनी से करार खत्म नहीं किया तो हम उच्चतम न्यायालय जाएंगे.