Big NewsBreakingPatnaPolitics

सवर्णों के प्रति नफरत फैलाने का प्रयास कर रहे नीतीश के मंत्री: विजय सिन्हा

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बिहार सरकार के राजस्व एवं भूमि सुधार मंत्री आलोक मेहता के ताजा बयान पर बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष विजय कुमार सिन्हा ने आपत्ति जताई है. उन्होंने आज कहा कि कभी लालू ने ‘भूरा बाल साफ करो’ कहा था. अब बेटे तेजस्वी अगड़ों को गाली दिलवा रहे हैं, जो बिहार को आग में झोंकने का षड्यंत्र है.

मंत्री आलोक मेहता के अपने बयान में सवर्णों को निशाना बनाते हुए कहा है कि ये ‘10 फीसदी वाले तो अंग्रेजों के दलाल थे और मंदिरों में घन्टा बजाते थे‘. उनके इस बयान को घोर आपत्तिजनक और विद्वेषतात्मक करार देते हुए सिन्हा ने कहा कि इस तरह का बयान देकर मंत्री समाज में सवर्णों व सनातनियों के प्रति नफरत और जहर फैलाने का कुत्सित प्रयास कर रहे हैं.

नेता प्रतिपक्ष सिन्हा ने कहा कि मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री की शह पर जातीय और धार्मिक आधार पर गोलबंदी के लिए सोची-समझी साजिश के तहत इस तरह के कुत्सित बयान दिए जा रहे हैं. कभी लालू यादव ने ‘भूरा बाल साफ करो’ का नारा दिया था तो उसी राह पर चलकर उनके पुत्र तेजस्वी ‘अगड़ों’ को गाली दिलवा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें| जदयू विधान पार्षद आग-बबूला, कहा आलोक मेहता चेत जाएं

उन्होंने कहा कि राजद और जदयू दिखावे के लिए नूरा-कुश्ती कर रहे हैं. किसी की ओर से कोई कार्रवाई नहीं हो रही है. जातीय-धार्मिक उन्माद फैलाने के इस खेल को बिहार की जनता बखूबी समझ रही है. बिहार की जनता भाजपा व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास व सबका प्रयास’ के साथ है. राजद का कुत्सित प्रयास कभी सफल होने वाला नहीं है.

(इनपुट-एजेंसी)