6 सितंबर को नीतीश करेंगे रैली, चुनाव प्रचार के लिए बनाया अपना पोर्टल

Patna (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार विधानसभा चुनाव के लिए जेडीयू ने बड़ी तैयारी शुरू कर दी है. जहां नीतीश कुमार की पार्टी ने वर्चुअल रैली की ओर बड़ा कदम बढ़ाया है. निर्वाचन आयोग के गाइडलाइन जारी होते ही जनता दल यूनाइटेड चुनाव मैदान में मजबूती से कूद पड़ा है. जेडीयू ने पहली बार अपना खुद का डिजिटल प्लेटफॉर्म तैयार किया है जिसका नाम दिया है जेडीयू लाइव (JDU Live).

2 सितम्बर को जेडीयू लाइव होगा लांच

जेडीयू अपना खुद का तैयार किया डिजिटल प्लेटफॉर्म जेडीयू लाइव 2 सितंबर को लॉन्च करने जा रहा है. इस डिजिटल पोर्टल को खुद नीतीश कुमार लॉन्च करेंगे. बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि बिहार के रहने वाले आईआईटी के छात्रों ने ही इसे तैयार किया है. पहले डिजिटल प्लेटफॉर्म पर जूम के जरिए या अन्य माध्यमों से लाइव होना पड़ता था जिसमें काफी परेशानी थी अब अपना डिजिटल प्लेटफॉर्म हो जाने से ना सिर्फ यहां से वर्चुअल रैली हो सकेगी बल्कि पार्टी का कोई भी वर्चुअल कार्यक्रम इस पोर्टल के जरिए किया जा सकेगा.

एक साथ जुड़ सकेंगे लाख से भी अधिक लोग

इस डिजिटल प्लेटफॉर्म की खसियत बताते हुए संजय झा में कहा कि इस प्लेटफार्म के जरिए एक साथ एक लाख से ज्यादा लोग जुड़ सकेंगे. इस पोर्टल में लोग अपने सुझाव भी दे सकते हैं. इस प्लेटफार्म के सबसे बड़ी खासियत यह होगी कि नीतीश कुमार के सारे पुराने भाषण इस डिजिटल प्लेटफॉर्म पर लोगों को सुनने के लिए रखे जाएंगे.

6 सितम्बर को नीतीश की वर्चुअल रैली

भवन निर्माण मंत्री अशोक चौधरी ने जानकारी देते हुए बताया कि 6 सितंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पहली बार वर्चुअल रैली इसी डिजिटल प्लेटफॉर्म पर करेंगे. 6 सितंबर को वर्चुअल रैली के जरिए लाखों लोगों को नीतीश कुमार संबोधित करेंगे. गौरतलब है कि पहले ही नीतीश कुमार की वर्चुअल रैली तय थी पर व्यक्तिगत कारणों से इसे रद्द करना पड़ा था. बिहार विधानसभा चुनाव को देखते हुए जदयू की तैयारी अहम मानी जा रही है. अशोक चौधरी ने बताया कि हर पार्टी अपने तरीके से चुनाव में लगी हुई है. कोई अपनी तरफ से कोई कसर बाकी नहीं छोड़ना चाहता, यही कारण है कि यदि उन्हें अपना खुद का डिजिटल प्लेटफॉर्म तैयार किया है जो पार्टी के लिए काफी मददगार साबित होगा.

कार्यकर्ताओं से जुड़ने में होगी आसानी

जेडीयू का डिजिटल पोर्टल के जरिये कार्यकर्ताओ तक पहुंचना आसान होगा. पहले इसके लिए लोगों को लिंक दिया जाता था जिससे सभी कार्यकर्ता जुड़ नहीं पाते थे. जेडीयू लाइव पोर्टल के जरिये कोई भी कार्यकर्ता अब सीधे कर्यक्रम से जुड़ सकता है.