लगातार टूट रहे पुलों के जिम्मेदार हैं नीतीश सरकार: तेजस्वी यादव

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार विधान सभा चुनाव से पहले नीतीश सरकार लगातार अलग-अलग योजनाओं का शिलान्यास और उद्धघाटन कर रही है. रोज़ाना राज्य में कहीं ना कहीं पुल और सड़क का शिलान्यास और उद्धघाटन हो रहा है. ऐसे में कई पुलों तथा इसके पहुँच पाठ के टूटने की भी खबर लगातार आ रही है. कई सारे ऐसे पुल भी थे जो उद्धघाटन से पहले ही टूट गए. इसको लेकर नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने एक बार फिर नीतीश सरकार पर निशाना साधा है.

तेजस्वी यादव ने कहा कि नीतीश सरकार पुल-पुलिया के निर्माण पर बिहार को लूट रही है. बिना पहुँच पथ के पुल-पुलिया बनाकर निर्माण के नाम पर भ्रष्टाचार किया जा रहा है. तेजस्वी ने कहा कि करोड़ो की लागत से बने पुलों के टूटने के ज़िम्मेदार नीतीश कुमार है.

तेजस्वी ने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि गोपालगंज में 263 करोड़ और 509 करोड़ के दो बड़े पुल टूटने के बाद फिर किशनगंज में करोड़ों की लागत से निर्माणाधीन पुल टूट गया. समझ नहीं आता इस सरकार में लगातार पुल कैसे टूट रहे हैं? किसी भी निर्माण और पुल का सर्वप्रथम डिजाइन बनवाया जाता है. निर्माण से पहले स्थल का निरीक्षण कर सॉइल टेस्ट (Soil test) किया गया होगा, उसके बाद पुल के पिलर के आधार (foundation) के डेप्थ (Depth) का डिजाइन किया गया होगा, उसके बाद डेक स्लाब (Deck Slab) आदि का डिज़ाइन (Design) हुआ होगा. फिर कैसे टूट गया पल?

तेजस्वी ने कहा कि आवागमन को देखते हुए छोटी बड़ी नदियों के पानी के बहाव के जरुरत के अनुसार ब्रिज का निर्माण होता है. ऐसे में सत्ता पक्ष के किसी भी व्यक्ति को बिना टेक्निकल (Technical) जानकारी के क्षतिग्रस्त पुल (Damage Bridge) के विषय में नहीं बोलना चाहिए कि नदी में अधिक पानी के कारण पुल क्षतिग्रस्त (Bridge Damage) हुआ है इत्यादि.

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों की राय है कि पुल के आधार के डेप्थ (Depth) के अनुसार कार्य नहीं करके बल्कि नदी के बेड (Bed) पर ही हल्का खुदाई किया गया है और फाउंडेशन (Foundation) के कार्य में ठेकेदार एवं अभियंताओं के मिलीभगत से करोड़ों रुपये का घोटाला किया गया है. साथ ही क्षतिग्रस्त पुल (Damage bridge) से स्पष्ट होता है कि पुल के फाउंडेशन (Foundation) के ऊपर किया गया कार्य भी क्वालिटी (Quality) एवं पैरामीटर (parameter) के अनुसार नहीं किया गया है.

तेजस्वी ने नीतीश सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि हज़ारों करोड़ के लगातार टूटते पुलों और पथों के घोटालों के लिए भ्रष्ट नीतीश सरकार दोषी है.