भरी सभा में नीतीश को आया गुस्सा, कहा वोट नहीं देना है मत दो

छपरा (TBN – The Bihar Now डेस्क) | सारण जिला के दो विधानसभा क्षेत्रों में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को आमसभा को संबोधित किया. नीतीश कुमार की पहली सभा मढ़ौरा विधानसभा क्षेत्र के ओलहनपुर इलाके में हाई स्कूल मैदान में सम्पन्न हुई. वही दूसरी सभा परसा विधानसभा क्षेत्र में डेरनी सुतिहार में हुई. पहली सभा में लोगो की भीड़ कम दिखी यानि लगभग फ्लॉप की स्थिति दिखी. वहीं दूसरी सभा मे उन्हें हूटिंग का सामना करना पड़ा.

हालांकि पहली सभा में बिना किसी शोर शराबे के अपनी बात आराम से कह कर नीतीश कुमार उड़ गए लेकिन परसा में हुई सभा में उन्हें थोड़ी परेशानी का सामना करना पड़ा और मंच से ही उन्होंने हंगामा कर रहे लोगों को खरी खोटी सुनाई.

सीएम नीतीश जब मंच से जनसभा को संबोधित कर रहे थे इसी बीच सामने कुछ लोग विरोध में हल्ला करने लगे. इसके बाद नीतीश कुमार ने आपा खो दिया दिया और शोर-शराबा करने वाले लोगों की जमकर क्लास लगा दी.

नीतीश कुमार ने हंगामा कर रहे लोगों को राजद उम्मीदवार छोटेलाल राय का आदमी करार देते हुए चेताया और उसके बाद चंद्रिका राय की पुत्री तेजप्रताप की पत्नी ऐश्वर्या को लेकर उन्होंने दुख भी जताया.

सीएम नीतीश ने कहा कि वोट नहीं देना होगा मत देना, लेकिन हल्ला बर्दाश्त नहीं. तुमलोग जिसके लिए हल्ला कर रहे हो, उसके वोट को खराब ही कर रहे हो. सीएम नीतीश ने गुस्से में लाल होकर कहा कि चंद्रिका राय के बारे में अपशब्द नहीं बोल सकते हो. तुमलोगों को जिसने भेजा है पहले वो इधर ही था, अब उधऱ गया है. पूछ लेना जब बीमार पड़ा था, तब कितना मदद किये थे.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि चंद्रिका राय जो लालू प्रसाद के समधी हैं इनकी बेटी के साथ उनलोगों ने क्या किया ? एक पढ़ी-लिखी लड़की के साथ लालू परिवार ने क्या किया यह सबलोग जान रहे हैं. लालू परिवार पर अटैक करते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि वो लोग किसी के नहीं है.

बहरहाल चुनावी सभा में पारिवारिक संबंधों में आई खटास का जिक्र के सियासी मायने तलाशने के काम शुरू हो गया है. अब किसको इसका सियासी फायदा मिलता है और किसको इस मामले को लेकर नुकसान उठाना पड़ेगा, यह तो वक्त ही बताएगा. लेकिन पहली बार चंद्रिका राय की बेटी का मंच पर होना अपने आप मे बहुत कुछ कह जाता है.