महागठबंधन में इतनी ताकत नहीं कि वो भाजपा विजय रथ को रोक सके: डॉ. संजय अग्रवाल

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | बिहार विधान सभा चुनाव में अब बस कुछ ही दिन रह गए हैं. सभी राजनीतिक पार्टियां अपनी-अपनी तैयारियों में लगा गई. सभी पार्टियों ने एक दूसरे पर बयान बाज़ी भी तेज़ कर दी है. इसी कड़ी में बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल ने एक बड़ा दावा करते हुए कहा है कि पूरे बिहार में एनडीए के पक्ष में जबरदस्त लहर है. एक बार फिर बिहार में एनडीए की सरकार ही बनेगी. गांठों में पड़ी दरार वाले महागठबंधन में इतनी ताकत नहीं कि वह भाजपा के विजय रथ को रोक सके.

डॉ. संजय जायसवाल ने आज कहा है कि राज्य के एक-एक विधान सभा क्षेत्र से उन्हें जो फीडबैक मिल रहा है वह स्पष्ट बताता है कि राज्य में भारी बहुमत से NDA की सरकार का बनाना तय है. बिहार की जनता एनडीए के शासन काल में हुए विकास कार्यों को देख रही है. और इस विकास कार्य को आगे बरक़रार रखने के लिए NDA को एक बार फिर जीत दिलाने का पूरा मन बना चुकी है.

वहीं उन्होंने कांग्रेस पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि किसानों के मुँह का निवाला छिननेवाली कांग्रेस आज किसानों के हितैषी होने का स्वांग रच रही है. राज्य का हर आम और खास जनता है कि किसानो का हित कांग्रेस के लिए कभी प्राथमिकता नहीं रही. आज जब सरकार किसानों के हित में कृषि सुधार कानून लायी है, तो कांग्रेस की छाती फट रही है. राष्ट्र के विकास की रीढ़ किसान-मजदूरों को कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में कभी मजबूत होने नहीं दिया.

डॉ. जायसवाल ने वर्चुअल रैली के जरिये कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी द्वारा चंपारण में महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण और गांधी चेतना रैली के संबोधन पर तंज कसते हुए कहा कि बदलते राजनीतिक दौर में चंपारण में इस पार्टी का कोई नामलेवा नहीं है. कांग्रेस ने अपनी सियासत चमकाने के लिए हमेशा दलितों-पिछड़ों और किसान-मजदूरों का इस्तेमाल किया. उन्होंने कहा कि देश की जनता ने जब कांग्रेस को उसके कारनामों के कारण हाशिए पर धकेल दिया है, तब एक बार फिर कांग्रेस अपनी फितरत का इस्तेमाल कर रही है. कांग्रेस की इस चालबाजी को समझना होगा. कांग्रेस के लोग किसानों का हित नहीं, बल्कि अपने स्वार्थ को साधना चाहते हैं.