इस बार NDA तीन-चौथाई बहुमत के साथ जीतेगी

पटना (TBN रिपोर्ट) | रविवार को नालंदा जिला अन्तर्गत बिहारशरीफ विधान सभा क्षेत्र में ‘बिहार जनसंवाद’ के तहत आयोजित वर्चुअल रैली को सम्बोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बड़ा दावा करते हुए है कहा कि आगामी विधान सभा चुनाव में एकबार फिर से एनडीए तीन-चौथाई बहुमत के साथ जीत हासिल करेगी.

‘बिहार जनसंवाद’ के तहत आयोजित वर्चुअल रैली को सम्बोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि बूथ लूट कर 15 साल राज करने वाले वर्चुअल रैली का विरोध कर रहे हैं. जिन लोगों ने बिहार की सड़कों को गड्ढों में तब्दील कर दिया, अंधेरे में धकेल कर कर लालटेन थमा दिया और कानून के राज्य के बजाय जंगल राज कायम किया वहीं लोग कभी आई-वाईटी क्या होता है कह कर ईवीएम का भी विरोध करते थे ताकि गरीब लाइन लगा कर वोट नहीं दे सकें.

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में 15 साल राज करने वालों ने अलकता घोटाला किया. तत्कालीन पथ निर्माण मंत्री सजायफ्ता होकर जेल में हैं. मगर एनडीए की सरकार में 46 हजार करोड़ खर्च कर 94,461 किमी ग्रामीण सड़कों का कार्य पूरा किया गया है. 18,936 किमी ग्रामीण सड़कों के साथ 100 की आबादी वाले टोलों को भी पक्की सड़क से जोड़ने का काम चल रहा है.

सुशील कुमार मोदी ने कहा कि अगली बार मौका मिला तो बिहार के हर खेत तक पानी पहुंचा दिया जायेगा. बिहार के किसान अब डीजल से खेती के लिए विवश नहीं होंगे. 39 हजार से ज्यादा गांवों और 1.06 लाख टोलों तक बिजली पहुंचाने के बाद अलग कृषि फिडर के जरिए दो लाख से ज्यादा किसानों को खेती के लिए बिजली का कनेक्शन दिया गया है जिन्हें मात्र 65 पैसे प्रति यूनिट की दर से भुगतान करना होगा.

सरकार के द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के बारे में बताते हुए उपमुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना संकट के दौरान केन्द्र व राज्य सरकार ने करीब 20 हजार करोड़ रुपये खर्च कर 8.71 करोड़ लोगों को मुफ्त खाद्यान्न,1.68 करोड़ को 3 किलो दाल, बिना राशन कार्ड वाले व बाहर से आए 84.40 लाख को 10 किलो चावल, 2.38 करोड़ महिलाओं के जनधन खाते में 1500 रु., 85 लाख गरीब महिलाओं को मुफ्त में 3-3 गैस सिलेंडर और 58.99 लाख किसानों को पीएम किसान सम्मान निधि की पहली किस्त के तौर पर 2-2 हजार रुपये तथा 84.76 वृद्धा, विधवा, दिव्यांग पेंशनधारियों को तीन महीने का अग्रिम पेंशन दिया है.

इसके साथ ही सुशील कुमार मोदी ने बताया कि नालंदा में पावापुरी मेडिकल कॉलेज अस्पताल, रहुई में डेंटल कॉलेज और नालंदा विश्वविद्यालय प्रारंभ हो चुका है तथा राजगीर में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के स्टेडियम का निर्माण कार्य जारी है.