अपना वजूद बचाने चिराग पहुंचे तेजस्वी के पास : NDA

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | लोजपा चीफ चिराग पासवान और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के बीच की टकरार किसी से छुपी नहीं है. LJP के NDA से अलग होने के बाद अब चिराग पासवान और नीतीश कुमार एक दूसरे पर बड़े बड़े आरोप लगाते हुए लगातार बयान दे रहे हैं. इसी कड़ी में एनडीए ने एक संयुक्त प्रेस वार्ता में तेजस्वी यादव और चिराग पासवन के उपर जमकर निशाना साधा. एनडीए के नेताओं ने कहा कि पहले हम चिराग पासवान जी को जन्मदिन की बधाई देते हैं. चिराग पासवान अपने राजनीतिक वजूद को बचाने के लिए तेजस्वी यादव के चरण स्पर्श कर रहे हैं. एनडीए नेताओं ने कहा कि रामविलास पासवान जी के जो दामाद हैं, सही मायनों में रामविलास पासवान जी को राजनीतिक चरम पर पहुंचाया. जब चिराग ने उन्हें प्रताड़ित करना शुरू किया तो उन्होंने राजद का दामन थाम लिया.

तेजस्वी यादव और चिराग पासवान का ऐसा आंतरिक मिलन हुआ कि विधानसभा चुनाव के वक्त राम विलास पासवान के दामाद को लगा था कि उनको आरजेडी से टिकट मिला गया. इसके बाद चिराग ने तेजस्वी से कहा कि उन्हें टिकट न दें क्योंकि अगर वो जीत जाएंगे तो पार्टी पर कब्जा कर लेंगे. चिराग खुद का बजूद बचाने के लिए तेजस्वी के चरण में चले गए हैं.

‘हम’ के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि चिराग रोज अपराध पर बात करते हैं, जबकि वो खुद रावण की गोद में बैठे हुए हैं. वो बोलते हैं तो ऐसा लगता है कि रावण महादेव का उपदेश दे रहा है. हालांकि राघोपुर की जनता को पता है कि इनको जीता दिया तो यहां का भला नहीं हो पाएगा, लेकिन राघोपुर में चिराग पासवान जाकर तेजस्वी को जिताने की बात करते हैं.