मांझी का बड़ा बयान, कहा- अपनी गलती से बोचहां विधानसभा उपचुनाव हारी बीजेपी

फाइल फ़ोटो

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| बोचहां विधानसभा उपचुनाव (Bochahan assembly by-election 2022) में बीजेपी (BJP) को बड़ी हार का सामना करना पड़ा है, जबकि राजद उम्मीदवार अमर पासवान (RJD candidate Amar Paswa) ने 36 हजार से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की है. पार्टी जहां बीजेपी की इस हार की समीक्षा करने की बात कर रही है वहीं जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने बड़ा बयान देते हुए इसे बीजेपी की गलती का नतीजा बताया है.

जीतन राम मांझी ने कहा कि भाजपा ने उम्मीदवार के चयन में गलती की, जिससे वह हार गई. जीतन राम मांझी ने कहा कि मुसाफिर पासवान भाजपा (Musafir Paswan) कार्यकर्ता थे. उनकी मृत्यु के बाद उनके बेटे को वहां से उम्मीदवार बनाया जाना चाहिए था, लेकिन बीजेपी ने उन्हें उम्मीदवार नहीं बनाकर दूसरे को टिकट दे दिया. वहीं मुसाफिर पासवान के बेटे अमर पासवान को बोचन से टिकट देकर आरजेडी ने जीत हासिल की.

गौरतलब है कि मुसाफिर पासवान वीआईपी विधायक (Musafir Paswan VIP MLA) थे, जिनकी मृत्यु के बाद बोचहां में उपचुनाव हुआ था. मुसाफिर पासवान के निधन के बाद कयास लगाए जा रहे थे कि बीजेपी उनके बेटे अमर पासवान को टिकट देगी. लेकिन बीजेपी ने ऐसा नहीं किया और बेबी कुमारी को अपना उम्मीदवार बनाया.

यह भी पढ़ें| बोचहां उपचुनाव परिणाम: राजद कैसे जीता? विजयी प्रत्याशी ने खुद बताई वजह

टिकट बंटवारे से पहले बदलते घटनाक्रम में जहां राजद ने अपने पक्ष में अमर पासवान को टिकट दिया वहीं वीआईपी के मुकेश साहनी ने तीसरे नंबर पर रहीं राजद नेता रमई राम की बेटी गीता देवी को टिकट देकर अपनी किस्मत आजमाई.

बोचहां में कौन किस नंबर पर रहा

बिहार विधान परिषद की 24 सीटों पर हुए चुनाव में बीजेपी को 7 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी होने का गौरव हासिल हुआ था, जिसके बाद से कयास लगाए जाने लगे थे कि बोचहां उपचुनाव में बीजेपी अपनी जीत को दोहराएगी. लेकिन उन्हें राजद से हारना पड़ा. राजद के अमर पासवान ने बीजेपी की बेबी कुमारी को 36653 हजार से ज्यादा वोटों से हराया. वीआईपी की गीता कुमारी तीसरे, कांग्रेस छठे स्थान पर रही. राजद के अमर पासवान को कुल 82562 वोट, बीजेपी की बेबी कुमारी को 45909 वोट और वीआईपी की गीता कुमारी को 29279 वोट मिले.