लोकतन्त्र की हत्या की जा रही है: तेजस्वी यादव

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | आज बिहार विधानसभा के तीसरे दिन की कार्यवाई शुरू होने के साथ शेष बचे चार सदस्यों का शपथ ग्रहण हुआ. इसके बाद प्रोटेम स्पीकर जीतन राम मांझी ने विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव को लेकर प्रक्रिया शुरू कराई.

विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव के वक्त सदन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उपस्थित थे जिसको लेकर भारी बवाल शुरू हो गया. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष चुनाव में नीतीश कुमार का क्या काम. वे तो इस सदन के सदस्य भी नहीं है.

इस पर प्रोटेम स्पीकर जीतनराम मांझी ने हंगामा करने वाले सदस्यों और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव को आईना दिखा दिया. उन्होंने कहा कि इसी सदन में जब राबड़ी देवी सीएम थी और लालू प्रसाद एमपी थे तो वह भी सदन में बैठे थे. इसके बाद भी भी जब राजद सदस्यों ने हंगामा नहीं रोका, तो प्रोटेम स्पीकर ने वोटिंग परिणाम की घोषणा करते हुए एनडीए प्रत्याशी विजय सिन्हा को विजयी घोषित कर दिया.

प्रोटेम स्पीकर द्वारा विजय सिन्हा के जीतने की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नवनिर्वाचित अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा को आसन तक ले गए और कुर्सी पर बिठाया. इसके बाद अपने संबोधन में सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि अध्यक्ष का पद दल से ऊपर होता है. अध्यक्ष सबके लिए होते हैं. विजय कुमार सिन्हा अनुभवी नेता हैं और सबको साथ लेकर चलेंगे. वहीं बिहार के दोनों डिप्टी सीएम और संसदीय कार्य मंत्री ने भी विजय कुमार सिन्हा को बधाई दी.

उधर तेजस्वी यादव ने विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा के चुनाव पर कहा कि आप सब लोगों को साथ लेकर चलें. बिहार लोकतंत्र की जननी है. आज लोकतंत्र की हत्या की जा रही है. आप सबलोगों के संरक्षक हैं. आपको सबको लेकर चलना होगा, सबको संरक्षण देना होगा. हम झुठ और असत्य का साथ नहीं दे सकते, हम चुप नहीं बैठ सकते. हमसब लोगों ने जनादेश को स्वीकार किया है. हमलोग मर्यादा में रहने वाले लोग हैं. सत्ता में रहने वाले लोगों को इतना अहसास होना चाहिए कि नियम-कानून का माखौल नहीं उड़ाना चाहिए.