10 जुलाई तक विधान परिषद हुआ बंद

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार में राज्य सरकार के निर्देशानुसार स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के द्वारा कोरोना से बचाव के लिए किये जा रहे निरंतर प्रयास के बावजूद भी कोरोना संक्रमण के आंकड़ों में बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है. राज्य के पुलिस कर्मियों और स्वास्थ्य कर्मियों के बाद अब कोरोना ने राजनीतिक दल में प्रवेश करते हुए बिहार विधान परिषद के सभापति अवधेश नारायण सिंह को अपनी चपेट में ले लिया है. इसके बाद कोरोना संक्रमण की आशंका को देखते हुए बचाव की दृष्टि से 10 जुलाई तक विधान परिषद को बंद करने का फैसला किया गया है.

विधान परिषद को बंद करने के दौरान पूरी तरह से सैनिटाइज किया जाएगा.  इसके साथ ही सभापति अवधेश नारायण सिंह विधान परिषद के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद उनकी सेल को विशेष तौर पर सैनिटाइज किया जाएगा. मिली जानकारी के अनुसार विधानसभा पूर्वत खुला रहेगा.

ज्ञात हो बिहार सरकार के मंत्री विनोद कुमार सिंह के बाद विधान परिषद के कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह के कोरोना संक्रमित पाये जाने के साथ ही उनके परिवार के कई अन्य सदस्य कोरोना पॉजिटिव मिले थे. जिसके बाद प्रशासन में हड़कंप सा मच गया था और आनन-फानन में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री के साथ उनके सहयोगियों के भी टेस्ट कराये गए लेकिन उनकी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद प्रशासन ने राहत की सांस ली.

Advertisements