‘डबल इंजन’ नहीं ‘ट्रबल इंजन’ है, लालू ने पीएम पर साधा निशाना

Source: Twitter

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क) | राष्ट्रीय जनता दल (राजद) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव, जो अभी रांची के जेल में हैं, बिहार चुनाव के दूसरे चरण के प्रचार में रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बीजेपी – जदयू गठबंधन के लिए “डबल इंजन” नारे के जवाब में कहा कि ये ‘डबल इंजन’ नहीं बल्कि ‘ट्रबल इंजन’ (मुसीबत का इंजन) है.

राजद प्रमुख ने ट्विटर पर पोस्ट किया कि “यह एक मुसीबत इंजन है, एक डबल इंजन नहीं. लॉकडाउन में फंसे श्रमिकों को वापस लाने के दौरान यह डबल इंजन कहाँ था?”

पीएम मोदी ने इससे पहले आज छपरा, जो लालू यादव का गढ़ है, में एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था कि “एनडीए की ‘डबल इंजन’ सरकार विकास के लिए प्रतिबद्ध है, लेकिन ‘डबल-डबल युवराज’ (कांग्रेस और राजद) केवल अपने सिंहासनों की रक्षा के लिए चिंतित हैं. नरेंद्र मोदी ने बिहार में राजद-कांग्रेस के गठबंधन को “डबल-डबल युवराज” (two crown princes) का गठबंधन करार दिया, जिसकी एकमात्र चिंता उनके “अपने सिंहासनों” की रक्षा करना है.

तेजस्वी यादव ने राहुल गांधी के साथ एक संयुक्त रैली में कहा था कि उनके पिता लालू प्रसाद यादव, जो चारा घोटाला मामलों में दोषी पाए जाने के बाद जेल गए हैं, को उनके (तेजस्वी के) जन्मदिन यानि 9 नवंबर को जमानत मिल जाएगी और फिर उसके अगले दिन 10 नवंबर को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की ‘विदाई’ (farewell) हो जाएगी. 10 नवंबर मतगणना का दिन है, जिस दिन बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे निकलेंगे.

आप ये भी पढ़ेंतेजस्वी का सत्ता में आना बिहार के लिए बड़ा दुर्भाग्य होगा: आरके सिंह

बताते चलें कि 9 अक्टूबर को झारखंड हाईकोर्ट ने बिहार के पूर्व सीएम लालू प्रसाद को अविभाजित बिहार में हुए चारा घोटाले से जुड़े चाईबासा कोषागार से 33.67 करोड़ रुपये की फर्जी निकासी के मामले में जमानत दी थी. हालांकि, वह अभी भी जेल में है क्योंकि वह एक अन्य मामले के सिलसिले में सजा काट रहे हैं.