लालू ने गरीबी और हिंसा देकर बिहार को किया शर्मसार

पटना (TBN रिपोर्ट) | बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर हमला साधते हुए कहा है कि लालू प्रसाद का 15 साल का शासनकाल बिहार का अंधकार काल था. एक तरफ विकास ठप था, तो दूसरी तरफ दलित-पिछड़े और व्यवसायी मारे जा रहे थे. गांव और शहर, दोनों जगह रोजगार खत्म होने के कारण पति-पत्नी के राज में लाखों लोगों को दूसरे राज्यों में महज दो वक्त की रोटी के लिए पलायन करना पड़ा.

सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि लालू प्रसाद ने गरीबी और हिंसा देेकर बिहार को शर्मसार किया, लेकिन इसमें उन्हें गलती कभी नजर नहीं आयी, इसलिए न पश्चाताप किया, न क्षमा मांगी. जनता को ही उन्हें दंडित करना पड़ा.

उप मुख्यमंत्री ने कहा है कि लालू प्रसाद के राज में सड़केें जर्जर, पेयजल के लिए हाहाकार, गांव अधेरे में डूबे और शहरों को भी मुश्किल से 12 घंटे बिजली मिलती थी. एनडीए के 15 साल में फोरलेन सड़कें, फ्लाइओवर, महासेतु और कई जगह पुराने पुल के समानान्तर नये सेतु बनने से विकास तेज हुआ. बिजली न केवल 24 घंटे मिलने लगी, बल्कि हर गांव तक पहुंची. नये मेडिकल कालेज, आइआइआइटी, निफ्ट के पटना कैंपस खुले, दो केंद्रीय विश्वविद्यालय, एक ला युनीवर्सिटी और नालंदा अंतरराष्ट्रीय विश्वविद्यालय बिहार को मिले.

सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि एनडीए ने बिहार को देश में तेज विकास दर हासिल करने वाला राज्य बनाया. जिस परिवार ने शासन और राजनीति के अपने शर्मनाक माडल को ” लालूवाद ” कहकर महिमामंडित किया, उसके किसी व्यक्ति के माफी मांगने का कोई मतलब नहीं.