PatnaPoliticsफीचर

लालू से निकटता के कारण हटाये जा सकते हैं ललन सिंह – सुशील मोदी

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| राज्यसभा सांसद सुशील कुमार मोदी (Rajya Sabha MP Sushil Kumar Modi) ने कहा है कि इंडी गठबंधन (INDI Alliance) की मंगलवार को हुई चौथी बैठक के बाद नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) के लिए राष्ट्रीय राजनीति के सारे द्वार बंद हो गए हैं. यहां तक कि लालू और तेजस्वी ने भी उनके नाम का प्रस्ताव नहीं रखा. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार पार्टी के अध्यक्ष पद से ललन सिंह को हत्या सकते हैं.

बुधवार को X पर सुशील मोदी ने लिखा कि दूसरे राज्यों की बात तो दूर, बिहार के “किंग मेकर” लालू प्रसाद (Bihar’s “King Maker” Lalu Prasad) और तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने भी किसी पद के लिए नीतीश कुमार का नाम नहीं प्रस्तावित किया.

पूर्व उपमुख्यमंत्री मोदी ने कहा कि नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री पद की उम्मीदवारी (Prime Ministerial candidacy) पाने के लिए पटना में अपने पक्ष में पोस्टर लगवाये थे, लेकिन कांग्रेस अध्यक्ष खड़गे का नाम आगे बढा कर केजरीवाल और ममता बनर्जी ने “खेला” कर दिया. लालू प्रसाद कुछ नहीं कर पाए.

सुशील मोदी ने कहा कि इंडी गठबंधन से झटका खाने के तुरंत बाद जदयू ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राष्ट्रीय परिषद की बैठक एक साथ बुलाने की घोषणा कर बड़े बदलाव का संकेत दिया है. संगठन के भीतर हताशा बढ़ी है.

ललन को हटाया जा सकता है

उन्होंने कहा कि जदयू में जब भी ऐसी बैठक होती है, राष्ट्रीय अध्यक्ष बदल जाता है. लालू प्रसाद से ललन सिंह की बढ़ती निकटता उन्हें हटाने का आधार हो सकती है.

सुशील मोदी ने लिखा कि राहुल गांधी की जगह मल्लिकार्जुन खड़गे का नाम प्रस्तावित करने से स्पष्ट है कि पद की दावेदारी के जरिये गठबंधन में वर्चस्व की लड़ाई तेज हो गई है.