नहीं बचा पाए ललन सिंह और संजय जायसवाल अपना गढ़, दोनों के क्षेत्रों में NDA प्रत्याशी की हार

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| गत सोमवार 4 अप्रैल को बिहार विधान परिषद के सभी 24 सीटों के लिए सम्पन्न हुए चुनाव (Bihar MLC Chunav 2022) के नतीजे आ गए हैं. बिहार बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और जेडीयू के अध्यक्ष दोनों अपने संसदीय क्षेत्रों में एनडीए उम्मीदवारों को चुनाव नहीं जीता पाए हैं. दोनों नेता के संसदीय सीटों पर उनकी पार्टी के प्रत्याशी की हार हुई है. इस चुनाव में एनडीए को कुल 13 सीटें जबकि आरजेडी को 6 सीटें प्राप्त हुई हैं.

नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह (JDU National President Lalan Singh) अपने संसदीय क्षेत्र मुंगेर में जेडीयू प्रत्याशी संजय प्रसाद को जीत नहीं दिला सके यहां अजय कुमार सिंह विजयी हुए. अजय कुमार सिंह को 2840 वोट मिला. जबकि संजय प्रसाद को 1656, और निर्दलीय गुड्डू यादव को 1050 वोट मिला है.

मुंगेर सीट को आरजेडी की परंपरागत सीट माना जाता है. पार्टी ने यहां से लगातार चौथी बार जीत दर्ज की है. इससे पहले 2003 में डॉ. रविंद्र प्रसाद यादव ने यहां से जीत दर्ज की थी. फिर 2009 और 2015 में RJD से संजय प्रसाद लगातार चुनाव जीतकर एमएलसी बने थे. इसबार चुनाव में उन्होंने पाला बदल लिया और जेडीयू में शामिल हो गए. संजय प्रसाद को हार का सामना करना पड़ा.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष भी लुटा बैठे सीट

दूसरी ओर बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. संजय जायसवाल (BJP State President Dr. Sanjay Jaiswal) भी अपने संसदीय क्षेत्र की दोनों सीट पर अपनी पार्टी और जेडीयू प्रत्याशी को चुनाव जिताने में कामयाब नहीं हो पाए.

डॉ. संजय जायसवाल पश्चिम चंपारण से सांसद हैं. इस सीट पर जेडीयू कैंडिडेट राजेश राम चुनाव लड़ रहे थे. लेकिन जीत की बात छोड़िए वो तो लड़ाई में भी नहीं रहे. राजेश राम पिछले तीन बार से एमएलसी थे. इस सीट पर RJD के सौरभ कुमार जीत दर्ज करने में कामयाब हुए.

संजय जायसवाल के संसदीय क्षेत्र का तीन विधानसभा पूर्वी चंपारण जिले में भी आता है. पूर्वी चंपारण से बीजेपी कैंडिडेट बबलू गुप्ता मैदान में थे. बबलू गुप्ता भी तीसरे स्थान पर चले गए. यहां कांग्रेस समर्थित निर्दलीय महेश्वर सिंह को जीत मिली है.

आरजेडी भी हारी अपने घर में

उधर, राष्ट्रीय जनता दल सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के घर में ही आरजेडी प्रत्याशी की हार हुई है. तेजस्वी यादव अपने गृह जिले में अपने प्रत्याशी को जीत नहीं दिला पाए. यहां आरजेडी प्रत्याशी दिलीप कुमार सिंह को हार का सामना करना पड़ा.

तेजस्वी यादव ने यहां अपने प्रत्याशी को जिताने के लिए कड़ी मेहनत की थी लेकिन उनका मेहनत रंग नहीं लाया और यहां बीजेपी के राजीव कुमार उर्फ गप्पू सिंह जीत दर्ज करने में कामयाब हुए.

बता दें, विधान परिषद (Bihar MLC Election 2022) की स्थानीय प्राधिकार कोटे की 24 सीटों के लिए चुनाव हुए थे. आज इन्हीं सीटों के परिणाम घोषित किए गए. मतगणना गुरुवार सुबह आठ बजे शुरू हुई थी. इसके लिए कुल 24 जिलों में मतगणना केंद्र बनाए गए थे, जबकि निर्वाचन आयोग की तरफ से मतगणना को लेकर सख्त सुरक्षा के इंतजाम किये गए थे.

घोषित हुए परिणामों के अनुसार बीजेपी ने 8 (पिछले चुनाव से 5 सीटें कम), जेडीयू ने चार, आरजेडी ने छह (पिछले चुनाव के मुकाबले एक सीट का फायदा) और कांग्रेस व रालोजपा (पारस) ने एक-एक सीट पर जीत हासिल की है. जबकि चार सीटों पर निर्दलीय प्रत्याशी ने बाजी मारी है.

आइए जानते हैं, कहाँ से किसकी जीत हुई है –

औरंगाबाद – दिलिप कुमार सिंह (भाजपा)

गया – रिंकु यादव (राजद)

नवादा – अशोक यादव (निर्दलीय)

सासाराम – संतोष कुमार सिंह (भाजपा)

पटना – कार्तिकेय कुमार (आरजेडी)

हाजीपुर – भूषण कुमार (रालोजपा)

नालंदा – रीना यादव, (जेडीयू)

भोजपुर – राधाचरण सेठ (बीजेपी)

गोपालगंज – राजीव सिंह (बीजेपी)

सीवान – विनोद जायसवाल (आरजेडी)

छपरा- सच्चिदानंद राय (निर्दलीय)

बेगूसराय – राजीव कुमार (कांग्रेस)

मुजफ्फरपुर – दिनेश सिंह (जेडीयू)

सीतामढ़ी – रेखा देवी (जेडीयू)

मधुबनी – अंबिका गुलाब यादव (निर्दलीय)

दरभंगा – सुनील चौधरी (बीजेपी)

समस्तीपुर – तरुण कुमार चौधरी (बीजेपी)

पश्चिमी चंपारण – सौरभ कुमार (आरजेडी)

पूर्वी चंपारण- महेश्वर सिंह (निर्दलीय)

भागलपुर – विजय कुमार सिंह (जेडीयू)

मुंगेर – अजय कुमार सिंह (आरजेडी)

कटिहार – अशोक अग्रवाल (बीजेपी)

पूर्णिया – दिलीप कुमार जायसवाल (बीजेपी)

सहरसा – डॉ अजय कुमार सिंह (आरजेडी)