ललन ने जगदानंद सिंह को कहा ‘थेथरलॉजी में पीएचडी’

पटना (TBN – The Bihar Now डेस्क)| जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजीव रंजन उर्फ ललन सिंह ने कहा है कि ‘आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह थेथरलॉजी में पीएचडी हैं और कुतर्क करने के मास्टर हैं‘. ललन सिंह दरअसल जगदानंद सिंह के उस बात का जवाब दे रहे थे जिसमें जगदानंद ने नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पर आरजेडी (RJD) को जमीन नहीं देने का आरोप लगाया था.

बता दें, आरजेडी ने राजधानी स्थित अपने कार्यालय के विस्तार के लिए सरकार से जमीन की मांग की थी. पार्टी की इस मांग को सरकार ने ठुकरा दिया था. इसी पर जगदानंद ने कहा था कि नीतीश कुमार जानबूझकर आरजेडी को जमीन नहीं दे रहे हैं.

जगदानंद के इसी आरोप पर रविवार को जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह (Lalan Singh) ने उपरोक्त विवादास्पद बयान दे डाला. ललन के इस बयान से लगता है कि जमीन के मामले ने राजनीतिक रंग ले लिया है.

Also Read| तेजप्रताप का पटना इस्कॉन मंदिर प्रबंधन पर गंभीर आरोप, कहा महिलाओं व बच्चों का हो रहा शोषण

ललन सिंह ने कहा कि, ‘जगदानंद सिंह पीएचडी हैं थेथरलॉजी में, वो कुतर्क करने के मास्टर हैं, इसलिए वो कुतर्क ही करते हैं’. ललन सिंह ने आगे कहा कि 2005 में सबसे पहले नीतीश कुमार ने नीतिगत फैसला लिया था कि जो भी मान्यता प्राप्त पार्टी है उसे कार्यालय के लिए जमीन दी जाएगी.

ललन सिंह ने कहा कि सभी मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल, चाहे वह राष्ट्रीय हो या क्षेत्रीय, को पार्टी को पटना में जगह दी गई है. जिस पार्टी ने जगह मांगी उसको वो जगह मिली.

पटना हाईकोर्ट से लगाए गुहार

उन्होंने कहा कि आरजेडी जो मांगा था, वह उन्हें मिला. ललन सिंह ने कहा कि यदि आरजेडी अपने ऑफिस का अब वह विस्तार करना चाहती है तो पटना हाईकोर्ट से जाकर गुहार लगाएं.

इसके पहले तेजस्वी यादव ने ट्वीट किया था कि जेडीयू कार्यालय के पास 66,000 वर्ग फीट जमीन है जबकि एमएलए 41, बीजेपी के पास 52,000 वर्ग फीट जमीन है जबकि एमएलए 74 और आरजेडी के पास 19,842 वर्ग फीट जमीन है जबकि एमएलए 75 हैं.

तेजस्वी यादव ने इन आंकड़ों को ट्वीट करते हुए कहा, “मुख्यमंत्री से सबसे बड़ी पार्टी आरजेडी के कार्यालय के लिए सबसे कम आवंटित जमीन की सच्चाई पर सवाल पूछ लिया तो आदतन गुस्सा आ गया. जेडीयू ने विधायकों के फ्लैट तोड़ जमीन कब्जाई है”.